क्राइम्स

कोरोना:गोरखपुर-बस्‍ती मंडल में खतरा बढ़ा, युवक के जनाजे में शामिल 20 लोगों की तलाश शुरू

बस्ती|गोरखपुर में कोरोना वायरस से एक युवक की मौत के बाद गोरखपुर और बस्‍ती मंडल में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है। युवक के जनाजे में बीस लोगों के शामिल होने की जानकारी मिलने से अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। अधिकारी अब उक्‍त बीस लोगों की तलाश कर रहे हैं।

 

 

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में हुई थी मौत

बस्‍ती जिले के गांधीनगर क्षेत्र के तुरकहिया मोहल्ला निवासी हसनैन अली की सोमवार को गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। मंगलवार को पुलिस ने कोरोना के मद्देनजर एहतियातन पूरे गांधीनगर को ही सील कर दिया। कंपनीबाग, रोडवेज के अलावा जीआरएस इंटर कॉलेज के सामने भी इस ओर जोन वाले मार्ग बंद कर दिए गए। चारों ओर पुलिस का सख्त पहरा है। परिवार के सभी छह सदस्यों और एंबुलेंस चालक व उसके उसके सहयोगी को आइसोलेट कर दिया गया है। नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं।

 

 

परिवार के छह सदस्यों समेत आठ लोग आइसोलेट

रविवार को बस्ती से हसनैन को गोरखपुर मेडिकल कॉलेज लाया गया था। रात में ही इलाज के दौरान मौत हो गई। उसे कोरोना वार्ड में वेंटिलेटर पर रखा गया था। मौत के बाद नमूना जांच के लिए भेजा गया था। इलाज करने वाले चिकित्सकों व अन्य स्वास्थ्य कर्मियों को आइसोलेट कर दिया गया है। मामला संदिग्ध लगने पर गांधीनगर व तुरकहिया आला अफसर, स्वास्थ्य विभाग, नगर पालिका और पुलिस की टीमें पहुंचीं। सीएमओ की मौजूदगी में स्वास्थ्य टीम ने मृतक के पिता अकबर अली व परिवार के पांच अन्य सदस्यों साबिर अली, हसन अली, नूर फातिमा, आबिश अली, सैयद, एंबुलेंस से गोरखपुर ले जाने वाले चालक व सहायक को वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। एंबुलेंस भी खड़ी करा दी गई है।

 
इलाके को किया जा रहा सैनिटाइज

प्रशासन के निर्देश पर नगर पालिका भी सक्रिय हो गई। निरोधक दस्ता इलाके को सैनिटाइज करने में जुट गया। कीटनाशकों का छिड़काव कराया गया। नपाध्यक्ष रूपम मिश्रा ने बताया कि शहर के अन्य हिस्सों में भी विशेष चौकसी बरती जाएगी।

 

 

जनाजे में शामिल हुए थे 18-20 लोग

मृतक के जनाजे में जामा मस्जिद के पेश इमाम समेत 18-20 लोग शामिल हुए थे। प्रशासन ने इनकी भी तलाश शुरू कर दी है, ताकि इनको भी आइसोलेट किया जा सके।

 

 
क्वारंटाइन हुआ मेडिकल स्टाफ

मौत के बाद बस्ती मेेडिकल कालेज व जिला अस्पताल में उसका इलाज करने वाले चिकित्सकों व मेडिकल स्टाफ तथा उनके परिजनों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। मृतक के परिजन पहले की क्वारंटाइन कर दिए गए हैं। वार्ड में उसके साथ रहने वाले मरीजों काे ढूढ़ा जा रहा है।

 

 

मेडिकल कॉलेज पहुंचे डीएम-एसएसपी

युवक की कोरोना संक्रमण जांच पॉजिटिव आने के बाद जिला प्रशासन से लेकर मेडिकल कॉलेज तक हड़कंप मच गया। आनन-फानन में डीएम के विजयेंद्र पांडियन, एसएसपी डॉ सुनील गुप्ता व सीएमओ डॉ श्रीकांत तिवारी मेडिकल कॉलेज पहुंचे और तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने रैन बसेरा, हॉस्टल व सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक में बने आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण किया। पत्रकारों से बातचीत में डीएम ने कहा कि बस्ती के युवक की मौत सोमवार को बीआरडी मेडिकल कॉलेज में हुई थी, उसकी कोरोना संक्रमण जांच पॉजिटिव आ गई है। इस संबंध में प्रोटोकॉल के अनुसार कार्रवाई के लिए जिला प्रशासन बस्ती को सूचित कर दिया गया है। मेडिकल कॉलेज में पूरी सावधानी बरती जा रही है। मेडिसिन वार्ड, ट्रामा सेंटर सहित पूरे मेडिकल कॉलेज को सैनिटाइज किया जा रहा है। उस मरीज के साथ मेडिसिन वार्ड में जो मरीज भर्ती थे, सीसी टीवी फुटेज से उनकी पहचान कराई जा रही है। मरीज की देखरेख में लगे 6 डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ को आइसोलेट करा दिया गया है। 5 दिन बाद उनके स्वाब की जांच कराई जाएगी।

 

 

गोरखपुर में रहते हैं युवक के बहनोई

युवक के बहनोई जो गोरखपुर में रहते हैं व एंबुलेंस के ड्राइवर को भी आइसोलेट करा दिया गया है। नगर निगम को निर्देश दिया गया है कि हर 6 घंटे पर मेडिकल कालेज को सैनिटाइज किया जाए। सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक के आइसोलेशन वार्ड में 40 वेंटिलेटर, 200 बेड कोरोना के लिए आरक्षित किए गए हैं। यह व्यवस्था भी बनाई गई है कि मेडिकल कॉलेज में मरीज के साथ जो भी तीमारदार आएंगे, उन्हें अस्पताल में नहीं रहने दिया जाएगा। उनके लिए रैन बसेरा में व्यवस्था की गई है। इस दौरान मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ गणेश कुमार भी मौजूद थे।

 

 

दिल्ली के निजामुद्​दीन से आकर संतकबीरनगर में छिपे थे 15 संदिग्ध

उधर, दिल्ली के निजामुद्​दीन के तब्लीगी मरकज में शामिल होने के बाद दो दिन पूर्व संत कबीरनगर के सेमरियावां ब्‍लाक के बढया माफी मस्‍जिद में 15 मौलाना आकर रुके थे। प्रशासन को सूचना मिली तो वहां से सभी संदिग्‍धों को पकडकर जिला अस्‍पताल में बने पीआइसीयू वार्ड में भर्ती कराया। सभी संदिग्‍धों

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.