ताज़ा ख़बरें

बस्ती :विभिन्न सीएचसी/पीएचसी पर कार्यरत 29 कर्मचारी जाॅच में अनुपस्थित मिले, कार्यवाही के निर्देश

बस्ती |विभिन्न सीएचसी/पीएचसी पर कार्यरत 29 कर्मचारी जाॅच में अनुपस्थित पाये गये। जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने नो वर्क नो पे के आधार पर उनका एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया है। अनुपस्थित पाये गये 12 स्थायी तथा 17 संविदा एंव आउटसोर्सिंग के कर्मचारी है।

 
नयी व्यवस्था के अनुसार जिलाधिकारी के निर्देश पर प्रत्येक सीएचसी/पीएचसी के एमओआईसी प्रत्येक दिन उपस्थिति एवं अनुपस्थिति का ब्योरा व्हाट्सएप के माध्यम से जिलाधिकारी को उपलब्ध कराते है। 20 जुलाई को अनुपस्थित सभी कर्मचारी ने अपने अनुपस्थिति के बारे में कोई सूचना कार्यालय को नही दिया था।

 
स्थायी कर्मचारियों में सीएचसी रूधौली में 09 कर्मचारी एचएस (सुपरवाईजर) दिनेश कुमार, समी मोहम्मद, शेरबहादुर सिंह, सीडीसी राम लखन, डीआरए करूणा चौधरी, पीआर गिरिजेश पाठक, यूडीसी सुरेन्द्र बहादुर, एमओ डाॅ0 शीबा खान, डाॅ0 अभिषेक कुमार तथा बनकटी में सुपरवाईजर सुशील कुमार गुप्ता, कुदरहाॅ में यूडीसी अंजू सिंह, भानपुर बीएचडब्ल्यू शिवशंकर ड्यूटी स्थल पर अनुपस्थित पाये गये।

 

IMG_20200721_083127

 
इसी प्रकार संविदा/आउटसोर्सिंग कर्मचारियों में सीएचसी रूधौली 07 कर्मचारी एएनएम रीमा पाण्डेय, आबिदा खातून, बीसीपीएम ज्योति यादव, काउन्सलर हरीश कुमार, आशा चौधरी, फर्मासिस्ट संतोष कुमार चौधरी, आपरेटर बृजभूषण तथा सल्टौआ में डाॅ0 पूनम दूबे, विक्रमजोत बीसीडीएम अम्बिकेश दूबे, मरवटिया आयुष्मान मित्र विकास कुमार चौधरी, कुदरहाॅ में ओपीपीआईसीओ नन्दिनी सिंह, हर्रैया में एसआईएल भाया साहू, फर्मासिस्ट शिव विशाल सिंह, डाॅ0 उमेश कुमार, साॅऊघाॅट में एमओआरबीएसके डाॅ0 माधवी सिंह, आयुष्मान मित्र शिवानी चौधरी एवं भानपुर में एसएन जनक नन्दनी सिंह ड्यूटी स्थल पर अनुपस्थित पाये गये।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.