अखण्ड भारत

राम मंदिर के साथ-साथ होगा नई अयोध्या का निर्माण, 600 एकड़ पर बनेगी टाउनशिप

अयोध्या|अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की तैयारियां तेज हो गई हैं। मंदिर के साथ-साथ अयोध्या के विकास का काम भी रफ्तार पकड़ रहा है। उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद लखनऊ-गोरखपुर राजमार्ग पर लगभग 600 एकड़ भूमि पर नई टाउनशिप का प्रस्ताव तैयार कर रही है।

 
नई टाउनशिप ग्राम शहनेवाजपुर और आसपास के गांवों की जमीन पर बनेगी। इसके अलावा देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालुओं, पर्यटकों और अयोध्या के स्थानीय निवासियों को बेहतर सुविधाएं देने के लिए कई परियोजनाएं शुरू की गई हैं। अगर ये सारे काम समय से पूरे हुए तो अगले कुछ ही वर्षों के भीतर एक नयी अयोध्या हमारे सामने आएगी, जिसकी सड़कें चौड़ी होंगी, मल्टीलेवल कार पार्किंग होगी, चौदह कोसी व पंचकोसी परिक्रमा मार्ग सुधरेंगे, बड़ा बस अड्डा होगा, कई रेलवे ओवरब्रिज बनेंगे, जल निकासी व सीवरेज की बेहतर सुविधाएं होंगी। घाट जगमगाएंगे। रामलीला मंचन के लिए पार्क व सांस्कृतिक मंच तैयार होंगे। इनमें से कई परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं मगर कई ऐसी भी हैं, जिनकी रफ्तार अभी सुस्त बनी हुई है।

 
अयोध्या के कई कुंड भी संवरेंगे
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसी साल 23 फरवरी को घोषणा की थी कि अयोध्या के सूर्य कुंड का विकास किया जाएगा और श्रद्धालुओं के लिए सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। मुख्यमंत्री की इस घोषणा को पूरा करने के लिए आकलन तैयार हो रहा है। इसी क्रम में विकास खंड मसौधा में स्थित भरतकुंड का पुनरुद्धार और सुन्दरीकरण होगा। इनके अलावा सात प्रमुख अविकसित-जीर्णशीर्ण हनुमान कुंड, स्वर्ण खनि कुंड, सीता कुंड, अग्नि कुंड,खुर्ज कुंड, गणेश कुंड और दशरथ कुंड का भी सुन्दरीकरण किया जाएगा।

 
ये विकास कार्य भी होंगे
अयोध्या में एनएच-27 बाईपास से निकल कर महोबरा बाजार होते हुए टेढ़ी बाजार/राम जन्म भूमि तक एलीवेटेड मार्ग का निर्माण। अनुमानित लम्बाई 1.90 किलोमीटर। अनुमानित लागत-275.25 करोड़ रुपए।

 
पंचकोसी परिक्रमा मार्ग पर बड़ी बुआ क्रासिंग

संख्या-112 पर दो लेन का रेलवे ओवरब्रिज बनेगा। इसी क्रम में उतरौला-अयोध्या-प्रयागराज मार्ग पर रेलवे क्रासिंग संख्या 107 ए/2 टी (वाराणसी लखनऊ रेल सेक्शन दर्शन नगर के पास) चार लेन का रेलवे ओवरब्रिज बनेगा।

 
चौदह कोसी परिक्रमा मार्ग पर सूर्य कुंड स्थित रेलवे क्रासिंग संख्या-105 पर दो रेलवे ओवरब्रिज, रेल प्रखंड जफराबाद-अयोध्या लखनऊ के फैजाबाद स्टेशन के पश्चिम यार्ड में रेलवे क्रासिंग संख्या 121 बी (मोदहा) पर चार लेन का रेलवे ओवरब्रिज, पंचकोसी परिक्रमा मार्ग पर हलकारा का पुरवा में रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण भी होना है। इन सभी कार्यो का आगणन तैयार किया जा रहा है।

 
लोक निर्माण विभाग द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग एन.एच. 27 से श्रीराम जन्मभूमि स्थल तक जाने वाले मार्गों का चौड़ीकरण होगा। इनमें 210.62 करोड़ रुपए की लागत से सहादतगंज-नयाघाट मार्ग का चौड़ीकरण और सुन्दरीकरण और 8.60 करोड़ की लागत से एन.एच.27 से रामघाट दिगंबर अखाड़ा होते हुए अयोध्या फैजाबाद मुख्यमार्ग तक चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण के कार्य भी शामिल हैं।

 

 

श्रीराम जन्मभूमि परिसर के चारों तरफ जाने वाली सड़कों के सुदृढ़ीकरण, नव निर्माण व सुधार कार्य के तहत टेढ़ीबाजार से अशरफी भवन होते हुए पोस्ट आफिस तक 4.26 करोड़ रुपए की लागत से और पंचकोसी परिक्रमा मार्ग पर उदया चौराहा से गोलाघाट तक 25.35 करोड़ रुपए की लागत से कार्य कराए जाएंगे।

 
अशरफी भवन से अंतरराष्ट्रीय मीडिया सेंटर यानी प्रेस क्लब तक 2.75 करोड़ की लागत से संपर्क मार्ग, बूथ नम्बर-4 से राम घाट चौराहा होते हुए हनुमान गुफा तक 10.85 करोड़ रुपए की लागत से सड़कों का सृदृढ़ीकरण, नव निर्माण और सुधार कार्य कराए जाएंगे।
अशरफी भवन से गोलाघाट तुलसी उद्यान मार्ग का 3.50 करोड़ की लागत से सुदृढ़ीकरण होगा। टेढ़ी बाजार अशरफी भवन से राजघाट तक 1.11 करोड़ की लागत से चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण होगा। गोलाघाट चौराहे से लक्षमण किला घाट तक 1.84 करोड़ की लागत से मार्ग का चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण होगा।
अयोध्या-सुल्तानपुरर राष्ट्रीय राजमार्ग (एन.एच.-330) से एयरपोर्ट तक फोर लेन सड़क का नवनिर्माण कार्य 18.75 करोड़ की लागत से होगा। रानोपाली रेलवे क्रासिंग से विद्याकुंड मार्ग पर चौड़ीकरण व सु़दृढ़ीकरण 4.46 करोड़ की लागत से होगा।
नयाघाट पुलिस चौकी से रामकथा संग्रहालय होते हुए एनएच-27 तक मार्ग के चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण के काम 17.78 करोड़ रुपए की लागत से कराये जाएंगे।

 

 

4.90 करोड़ की लागत से नयाघाट चौराहे का

चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण और सुन्दरीकरण होगा।
राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण रायबरेली द्वारा सोहावल से नवाबगंज होते हुए विक्रमजोत तक बाईपास का निर्माण करवाया जाएगा। इसका आगणन तैयार करवाया जा रहा है।
सिंचाई विभाग सरयू नहर खंड द्वारा सरयू नदी के दाएं तट पर गुप्तारघाट से जमथरा घाट के कुल 1.150 किलोमीटर तक बांध का निर्माण व हरीशचन्द्र उदया बांध का पुनरुद्धार 39.63 करोड़ की लागत से होगा। इसी क्रम में ब्रम्हकुंड गुरुद्वारा की सुरक्षा के लिए रिटेनिंग वाल का निर्माण और मिट्टी भराव का काम होगा।
जल निगम की अयोध्या नागर कार्य इकाई द्वारा 363.95 करोड़ रुपए की लागत से पुराने फैजाबाद क्षेत्र के लिए नालों के आईएण्डटी व एसटीपी का कार्य करवाया जाएगा। इसके साथ ही 26000 सीवर गृह संयोजन व एक पम्पिंग स्टेशन का कार्य भी होगा।
राजकीय निर्माण निगम की विद्युत इकाई-18 लखनऊ की ओर से हनुमानगढ़ी, दशरथ महल, कनक भवन, जानकी मंदिर, दिगंबर अखाड़ा और राजद्वार मंदिर में फसाड लाइटिंग का कार्य 4.30 करोड़ रुपए की लागत से करवाया जाएगा।

 
नगर विकास व आवास विभाग की ओर से एन.एच.27 से श्रीरामजन्म भूमि तक जाने वाले मार्ग का चौड़ीकरण करवाया जाएगा। इसमें टेढ़ीबाजार के निकट स्थित जिला पंचायत के निष्प्रयोज्य गेस्ट हाउस परिसर भूखंड पर 302 दुकानें बनवायी जाएंगी। लागत 21.41 करोड़ रूपये होगी। इसी क्रम में अयोध्या विकास प्राधिकरण द्वारा संचालित कोशलेश कुंज योजना में सामुदायिक केन्द्र परिसर में लगभग 90 दुकानों का कमर्शियल काम्पलेक्स बनेगा। लागत होगी 9.71 करोड़ रुपए।

 
इन प्रमुख परियोजनाओं का काम लगभग पूरा हो चुका है

अयोध्या धाम की कई प्रमुख परियोजनाओं का काम लगभग पूरा होने वाला है। इनमें से कुछ परियोजनाओं का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आगामी 5 अगस्त को लोकार्पण भी कर सकते हैं।

 
राजकीय निर्माण निगम की अयोध्या इकाई द्वारा भजन संध्या स्थल का 94 प्रतिशत काम पूरा कराया जा चुका है। 1902 लाख रुपए की लागत से यह काम 4 अगस्त 2016 को शुरू हुआ था।

 
दशरथ महल,सत्संग भवन, यात्री सहायता केन्द्र और रैन बसेरे का काम 31 मार्च 2013 को शुरू हुआ था। 242.04 लाख रुपए की लागत से यह काम भी 80 प्रतिशत पूरा करवाया जा चुका है।
रामायण सर्किट थीम के तहत रामकथा गैलरी का काम अक्टूबर 2018 में शुरू हुआ था। इसकी कुल लागत 759 लाख रुपए आंकी गई है। 80 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है। बाकी काम आागमी 30 सितंबर तक पूरा करवाने की बात कही गई है।
नए बस डिपो का निर्माण कार्य 27 सितंबर 2017 को शुरू हुआ था। इसकी निर्माण लागत 704.64 लाख रुपए आंकी गई है। 70 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है। शेष कार्य 30 सितंबर तक पूरा करवाए जाने की उम्मीद जतायी गई है।
अयोध्या बाईपास के निकट मल्टीलेवल कार पार्किंग का काम 27 सितंबर 2017 को शुरू हुआ था। 1565.84 लाख रुपए की लागत से हो रहे इस निर्माण कार्य की अभी तक भौतिक प्रगति 65 प्रतिशत है। इसके भी 30 सितंबर तक पूरा होने की उम्मीद है।
दिगंबर अखाड़ा परिसर में मल्टीपरपज हाल का निर्माण पूरा हो गया है। 275.02 लाख की लागत से बने इस हाल का काम 27 सितंबर 2017 को शुरू हुआ था।
राम की पैड़ी का कार्य पूरा हो गया है। 1264 लाख की लागत वाले इस काम की शुरूआत 27 सितंबर 2017 को हुई थी।
सिटीवाइड इण्टरवेंशन का काम भी 80 प्रतिशत पूरा हो चुका है। बाकी का काम भी इसी साल सितंबर के अंत तक पूरा होने की उम्मीद है। इसकी कुल लागत 1463 लाख है।
अयोध्या स्ट्रीट रेजुवेंनशन के तहत फुटपाथों के नवीनीकरण का काम भी 80 प्रतिशत पूरा हो चुका है। 838 लाख की लागत के इस काम की 27 सितंबर 2017 को हुई थी।
प्रेस क्लब का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। 11051 लाख रुपए की लागत से यह काम फरवरी 2010 में शुरू हुआ था और पिछले साल 30 जून को पूरा हुआ।
सरयू नहर अयोध्या खंड द्वारा गुप्तारघाट के विकास व निर्माण का काम पूरा हो चुका है। 3564 लाख रुपए की लागत वाली यह निर्माण परियोजना पहली अप्रैल 2018 को शुरू हुई थी।
लक्ष्मण किला घाट के विकास व निर्माण का काम भी 90 प्रतिशत पूरा हो चुका है। 973 लाख की लागत वाली इस परियोजना का बाकी काम इसी साल 30 सितंबर तक पूरा होने की उम्मीद जतायी गई है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.