ताज़ा ख़बरें

बस्ती जिले की बाढ़ प्रभावित दो तहसीलों में कुल 3590 राहत किट वितरित किया गया

बस्ती । जिले की बाढ़ प्रभावित दो तहसीलों में कुल 3590 राहत किट वितरित किया गया है। उक्त जानकारी जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने दी है। उन्होने बताया कि हर्रैया तहसील में 2190 तथा बस्ती सदर में तहसील में 1400 खाद्यान्न किट प्रभावित परिवारों को दिया गया है। उन्होने बताया कि बाढ़ से अबतक कोई जनहानि या पशुहानि नही हुयी है। पशुओ के लिए 1132 कुन्तल भूसा वितरित किया गया है तथा कुल 8772 पशुओं का बिमारियों से बचाव के लिये टीका लगाया गया है।


उन्होने बताया कि जिले में तहसील बस्ती में 27 तथा हर्रैया में 25 गाॅव बाढ़ से प्रभावित है। तहसील बस्ती में 05 तथा हर्रैया में 15 गाॅव मैरूण्ड है। इन गाॅव में कुल 15532 आबादी बाढ़ से प्रभावित है। कुल 6839 हेक्टेयर क्षेत्रफल बाढ़ से प्रभावित है। कुल 89 नावें आवागमन के लिये लगायी गयी है। 17 बाढ चैकियों पर पर तीन शिफ्ट में राजस्व, स्वास्थ्य, पशुपालन, विकास एंव अन्य कर्मियों की डियूटी लगायी गयी है।


जिलाधिकारी ने बताया कि बाढ़ क्षेत्र में 17 राहत शिविर संचालित है। शुद्ध पेयजल करने हेतु 12800 क्लोरीन टेबलेट का वितरण किया गया है। उन्होने बताया कि जिले में लोलपुर विक्रमजोत, अटरिया चाॅदपुर, गौरा सैफाबाद तथा कलवारी रामपुर तटबन्ध सम्वेदनशील है परन्तु राजस्व एवं बाढ़ खण्ड द्वारा इस पर सतत निगरानी रखी जा रही है। कटान नियंत्रित है। बन्धो के रेनकट की मरम्मत की जा रही है। तटबन्धों को तत्काल कोई खतरा नही है।


प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 15 अगस्त को सांसद, विधायक एवं प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वीडियों कान्फ्रेन्सिंग करके निर्देश दिया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में फसलहानि, मकानक्षति आदि की रिपोर्ट सत्यापन करने के बाद उपलब्ध करायी जाय। बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में स्वास्थ्य कैम्प आयोजित किया जाय तथा किसानों का आपदा की अहैतिक सहायता एवं फसल बीमा का फार्म भरवाया जाय।


बाढ़ के दौरान प्रदेश के गन्ना विकास एवं चीनी मिलें मंत्री सुरेश राणा तथा जल शक्ति राज्य मंत्री बलदेव ओलख ने हर्रैया तहसील के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया तथा अधिकारियों के साथ बैठक करके बाढ़ क्षेत्र में सुविधाओं एवं राहत कार्य की समीक्षा किया। इस अवसर पर उन्होने कहा कि बाढ प्रभावित प्रत्येक व्यक्ति की समय से सहायता उपलब्ध करायी जाय।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.