March 5, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

72 साल बाद फिर हुआ करिश्मा, 58 रनों के अंदर चटकाए ऑस्ट्रेलिया के आखिरी 5 विकेट,बनाया अद्भुत रिकॉर्ड

भारत के युवा गेंदबाजों ने 58 रनों के अंदर चटकाए ऑस्ट्रेलिया के आखिरी 5 विकेट, नटराजन और सुंदर के नाम दर्ज हुआ बड़ा रिकॉर्ड

ब्रिस्बेन में गाबा का मैदान यानी गेंदबाजों के लिए स्वर्ग। यहां की पिच में अपेक्षाकृत उछाल ज्यादा होता है। सीम पर गिरी गेंद बल्लेबाजों को बहुत तंग करती है। स्पिनर्स भी प्रभावी होते हैं। भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज का चौथा और आखिरी मैच यहीं जारी है। टॉस जीतकर ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 369 रन बनाए।

India vs Australia

  • 1/7

 

भारत के युवा और अनुभवहीन गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए चौथे और आखिरी टेस्ट के दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया के आखिरी पांच विकेट 58 रनों के अंदर चटका दिए. कंगारू टीम की पहली पारी 369 रनों पर सिमट गई.

 

India vs Australia

  • 2/7

 

भारत के लिए पहली पारी में टी. नटराजन, शार्दुल ठाकुर और वॉशिंगटन सुंदर ने 3-3 विकेट झटके. मोहम्मद सिराज ने 1 विकेट लिया.

 

India vs Australia

  • 3/7

 

अपने स्टार गेंदबाजों की चोटों से जूझ रही भारतीय टीम के इन अनुभवहीन गेंदबाजों का प्रदर्शन इसलिए भी तारीफ के लायक रहा, क्योंकि इनके पास टेस्ट क्रिकेट का अनुभव नहीं है और सामने ऑस्ट्रेलिया जैसी बड़ी टीम है.

 

India vs Australia

  • 4/7

 

इस टेस्ट मैच में डेब्यू करने वाले गेंदबाज टी. नटराजन और वॉशिंगटन सुंदर ने कमाल कर दिया और 3-3 विकेट अपने नाम कर बड़ा रिकॉर्ड बनाया.

 

India vs Australia

  • 5/7

 

टी. नटराजन और वॉशिंगटन सुंदर की जोड़ी ने एक साथ एक ही मैच में डेब्यू करते हुए 3-3 विकेट झटके.

 

India vs Australia

  • 6/7

 

ऐसा कारनामा 72 साल बाद एक बार फिर से हुआ है, जब भारत की तरफ से दो डेब्‍यू करने वाले खिलाड़ी एक ही टेस्‍ट पारी में तीन विकेट के क्‍लब में शामिल हुए.

 

India vs Australia

  • 7/7

 

टी. नटराजन और वॉशिंगटन सुंदर से पहले भारत की तरफ से मंटु बनर्जी और गुलाम अहमद ने 1948-1949 में वेटस्‍इंडीज के खिलाफ कोलकाता में टेस्‍ट डेब्‍यू करते हुए 4-4 विकेट लिए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.