Author Archives

सच के साथ

सच के साथ

क्या कश्मीर पाकिस्तान को देने को राज़ी थे सरदार पटेल?

कश्मीर के भारत में विलय पर सरदार पटेल के विचारों के बारे में भारत प्रशासित कश्मीर के कांग्रेसी नेता सैफ़ुद्दीन सोज़ की टिप्पणी से विवाद पैदा हुआ है.सोज़ का कहना था कि […]

भारत के विभाजन और कश्मीर समस्या के लिए जिम्मेदार कौन?

राजनैतिक शक्तियां अपने एजेंडे को लागू करने के लिए इतिहास को तोड़ती-मरोड़ती तो हैं ही, वे अतीत की घटनाओं और उनके निहितार्थों के संबंध में सफ़ेद झूठ बोलने से भी नहीं हिचकिचातीं। […]

दो जून की रोटी : मुहावरे का इतिहास

भारत में सदियों से सामाजिक वर्गीकरण का आधार केवल आर्थिक स्तर ही रहा हैं. ऐसे में कब, कहाँ से और कितने मुहावरों का जन्म हुआ कोई नहीं कह सकता. दो जून की […]

किसने लूटी नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की विरासत;

गोपनीय सरकारी दस्तावेजों से नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जुटाए खजाने के गायब होने के रहस्य का खुलासा हुआ. सबसे हैरान करने वाली सचाई यह है कि उस समय नेहरू सरकार को […]

जब पटेल ने नेहरू से कहा- लोकतंत्र में PM सबसे बड़ा नहीं, बल्कि…

ये वाक्या गांधी की हत्या के कुछ हफ्ते पहले दिसंबर 1947 का है. देश में कई जगह सांप्रदायिक दंगे भड़के हुए थे. प्रधानमंत्री नेहरू तथा गृह मंत्री सरदार पटेल की तमाम कोशिशों […]

पैसा और रिश्ते – एक ही सिक्के के दो पहलू

आपके दूसरों के साथ संबंध कैसे होंगे यह बात दो चीज़ों पर निर्भर करती है – पहली यह कि आपके नसीब मे क्या है और दूसरी यह कि आपकी जेब मे क्या […]

इस दुनिया में सबसे बड़ा कौन है?

एक बार अर्जुन अपने सखा श्री कृष्ण के साथ वन में विहार कर रहे थे| अचानक ही अर्जुन के मन में एक प्रश्न आया और उसने जिज्ञासा के साथ श्री कृष्ण की […]