September 29, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

Basti Circles: मंडलायुक्त ने की समीक्षा बैठक, विकास कार्यों को गुणवत्तापूर्ण पूरा करने के दिए निर्देश

मंडलायुक्त ने की समीक्षा बैठक, विकास कार्यों को गुणवत्तापूर्ण पूरा करने के दिए निर्देश

-सरकारी विभाग जल्द करें विद्युत बिल का भुगतान, अन्यथा होगी कार्यवाही

बस्ती 22 अगस्त| विकास कार्यों को गुणवत्तापूर्ण एवं समयबद्ध तरीके से पूरा करने के लिए मंडलायुक्त गोविंदराजू एन.एस. ने सभी मंडलीय अधिकारियों को निर्देशित किया है। मंडलायुक्त सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने कहा कि प्रत्येक माह का लक्ष्य निर्धारित करके उसको पूरा करने का प्रयास करें। परियोजनाओं एवं कार्यालय निरीक्षण में तेजी लाएं तथा निरीक्षण टिप्पणी अवश्य उपलब्ध कराएं। बैठक में जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन, संतकबीर नगर दिव्या मित्तल तथा सिद्धार्थनगर के संजीव रंजन उपस्थित रहे।
उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में संसाधनों की कमी नहीं है।

पर्याप्त संख्या में डॉक्टर एवं स्टाफ भी उपलब्ध है। इसका लाभ आम जनता को मिलना चाहिए। उन्होंने निर्देश दिया कि मंडल के 14 हेल्थ वेलनेस सेंटर में सीएचओ की तैनाती करके सक्रिय कराएं। डॉक्टरों की उपस्थिति की नियमित रूप से जांच हो तथा सीएचसी एवं पीएचसी पर मानक के अनुसार दवाएं उपलब्ध कराई जाएं। उन्होंने बस्ती के संविदा कर्मियों के वेतन को तत्काल आहरित किए जाने के लिए अपर निदेशक स्वास्थ्य को निर्देशित किया है।

चाइल्ड केयर प्रोग्राम की समीक्षा करते हुए उन्होने निर्देश दिया कि ग्रामीण क्षेत्र के नवजात बच्चों का सीआरएस पोर्टल पर रजिस्टेªशन की संख्या काफी कम है। इसके लिए प्रत्येक आशा का लक्ष्य निर्धारित करें। सभी एमओआईसी प्रति माह इसकी समीक्षा भी करें। समीक्षा में उन्होने पाया कि मातृत्व सुविधाए बढने से ग्राम स्वास्थ्य पोषण दिवस की बैठकों में महिलाओं के स्वास्थ्य में सुधार आया है। पिछले माह तक 569902 गोल्डन कार्ड बनाये गये है, इसमें से 267498 परिवार ऐसे है, जिसमें कम से कम एक व्यक्ति का गोल्डन कार्ड बन गया है। इसके द्वारा मंण्डल में 44630 लाभार्थियों का उपचार किया गया है।

सरकारी विभागों के विद्युत बकायें की समीक्षा में उन्होने पाया कि बस्ती में चिकित्सा विभाग रू0 1.27 करोड़, जल निगम रू0 3.08 करोड़, पंचायती राज विभाग रू0 6.14 करोड़, प्राथमिक शिक्षा 2.52 करोड़, संतकबीर नगर में चिकित्सा विभाग रू0 1.97 करोड़, दूरसंचार रू0 4.93 करोड़, प्राथमिक शिक्षा रू0 2.96 करोड़, रेलवे रू0 2.22 करोड़, सिद्धार्थनगर में चिकित्सा विभाग रू0 1.78 करोड़, दूरसंचार रू0 6.46 करोड़, प्राथमिक शिक्षा रू0 2.71 करोड़, पंचायतीराज विभाग रू0 8.63 करोड़ सर्वाधिक बकाया है। मण्डल में कुल 7771 लाख रूपये विभिन्न विभागों पर बिजली विभाग का बकाया है। इसके भुगतान के लिए संबंधित अधिकारियों को कार्यवाही करने का निर्देश दिया है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में कुल 14104 किसानों का सुधार हेतु डाटा शेष है। इसमे से सर्वाधिक सिद्धार्थनगर का 7515 किसानों का है। उन्होने इसके शीघ्र निस्तारण का निर्देश दिया है। मण्डल में कुल 19155 निराश्रित गोवंश संरक्षित किए गये है, जबकि 3233 अवशेष है। 5.49 लाख के सापेक्ष 5.21 पशुओं का टीकाकरण किया गया है। 4774 के सापेक्ष 4092 गोवंश सहभागिता योजना में स्थानीय लोगों को सुपुर्द किए गये है।

समीक्षा में उन्होने पाया कि मण्डल में सभी 3075 सामुदायिक शौचालय का निर्माण प्रारम्भ हो गया है, इसमें से 2943 पूर्ण हो गये है। पंचायती राज विभाग द्वारा 3434 के सापेक्ष सभी खराब हैण्डपम्प रिबोर करा दिये गये है। कुल 3075 में 1168 ग्राम पंचायतों में पहले से पंचायत भवन उपलब्ध है, शेष 1907 में से 1866 का स्थल चयन करते हुए निर्माण शुरू कराया जा रहा है। अमृत योजना के तहत बस्ती में जलपूर्ति के लिए 09 ओवरहेड टैंक का निर्माण सितम्बर तक पूरा कर लिया जायेंगा।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत कुल 33 सड़को का निर्माण कराने का लक्ष्य है। इसके सापेक्ष 10 सड़को का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। नयी सड़को का निर्माण एवं चौड़ीकरण एंव सुदृढीकरण के अन्तर्गत 631 किमी0 की 159 सड़को का निर्माण कराया जा रहा है। इसके सापेक्ष 281 किमी0 की 54 सड़क का निर्माण पूरा कर लिया गया है।

सार्वजनिक वितरण प्रणाली की 254 रिक्त दुकानों के सापेक्ष 216 दुकानों पर कोटेदार की नियुक्ति कर दी गयी है। मत्स्य पालन हेतु 67 नये पट्टा आवंटन तथा 51 पट्टो का रिनिवल कराया गया है। फल, पुष्प एंव मसाला क्षेत्र के अन्तर्गत 111 के सापेक्ष 111 हेक्टेयर पर खेती करायी गयी है।

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत 600 से सापेक्ष 651 जोड़ों का विवाह कराया गया है। पेंशन लाभार्थियों के सत्यापन में 11549 वृद्धावस्था पेंशन के लाभार्थी मृत्क एवं अपात्र पाये गये। नये 18998 आवेदन पत्र स्वीकृत किए गये। विधवा पेंशन में 887 मृत्क एवं अपात्र पाये गये। 2065 नये आवेदन पत्र लेकर सभी स्वीकृत किए गये। दिव्यांगजन लाभार्थी के सत्यापन में 462 मृत्क एवं अपात्र पाये गये तथा 548 आवेदन पत्र लेकर सभी स्वीकृत किए गये।

बैठक का संचालन उप निदेशक अर्थ एंव संख्या अमजद अली अंसारी ने किया। बैठक में सीडीओ, जयेन्द्र कुमार, डा. राजेश कुमार प्रजापति, अतुल मिश्रा, अपर निदेशक स्वास्थ्य डा. चन्द्रप्रकाश कश्यप, मुख्य अभियन्ता विद्युत गुलाम मुस्तफा, अधीक्षण अभियन्ता पीडब्ल्यूडी भूपेशमणि त्रिपाठी, सिचांई के लवकुश सिंह, नलकूप के डी.सी. भट्ट, जलनिगम के धर्मेन्द, उप निदेशक पंचायती राज बी.बी. सिंह तथा विभागीय अधिकारी उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.