October 27, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

Basti News:बारिश के कारण ढहा मकान, दो लोगों की मौत; 8 गंभीर

हादसे के दौरान घर में 10 लोग मौजूद थे। अचानक मकान गिरने से हादसा हो गया। सभी घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

बस्ती|जिले में लगातार हो रही बारिश के कारण बस्ती जिले के परशुरामपुर थाना क्षेत्र के बेदीपुर बाजार निवासी मोहम्मद अली का मकान ढह गया। हादसे में उसके दो बेटियों की जान चली गई तो मकान के अंदर बंधी पांच बकरियों की मलबे में दबने से मौत हो गई। गंभीर रूप से घायल परिवार के आठ सदस्यों को जिला अस्पताल अयोध्या पहुंचाया।

15 साल पुराने मकान में रहते थे मोहम्मद अली

मोहम्मद अली परिवार के साथ 15 साल पुराने पक्के मकान में रहते थे। लगातार बारिश के कारण उनके मकान के पीछे और बगल में पानी भर गया था। रात 12 बजे जब परिवार के लोग सो रहे थे, उसी समय मोहम्मद अली का मकान भरभरा कर ढह गया। मकान के ढहते ही तेज आवाज हुई तो आस पास के लोग जग गए। चीख-पुकार सुनकर बाजार के लोग उधर दौड़े, मगर तब तक मकान पूरी तरह मलबे में तब्दील हो चुका था। बाजार के लोग बड़ी संख्या में एकत्र हो गए। उन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद शनिवार भोर तक मकान का मलबा हटाया। मगर तब तक काफी देर हो चुकी थी।

 

मलबे में दबने से तरन्नमु और शना की चली गई जान

मलबे में दबी 22 वर्षीय तरन्नुम तथा 16 वर्षीय शना की मौत हो चुकी थी, जबकि मोहम्मद अली, उनकी पत्नी जौशान, बेटा अकरम, बहू शबीना खातून, नाती एहसान, जुनेद, जुवेद, जुबेर तथा ननिहाल में रह रहा भांजा हसनैन गंभीर हालत में अचेत पाए गए। सभी को मलबे से बाहर निकालकर तत्काल जिला अस्पताल अयोध्या पहुंचाया गया। जहां उनका उपचार चल रहा है। मौके पर पहुंची परशुरामपुर पुलिस ने दोनो शव को कब्जे में लिया और हादसे में संबंध में लोगों से पूछताछ की। प्रभारी निरीक्षक अवधेश राज सिंह ने बताया कि घटना के संबंध में प्रशासनिक अधिकारियों को सूचना दे दी गई है। लेखपाल केसरी नंदन त्रिपाठी ने मौके पर पहुंच क्षति का आंकलन किया।

घायलों को भेजा गया अस्पताल

बेदीपुर चौराहे पर स्थिति मोहम्मद अली (62) पुत्र मजनू ने पक्का मकान बेसमेंट पर बना रखा है। कई वर्ष से परिवार इसी मकान में रहता है। मकान के अगले हिस्से में किराने की एक दुकान भी थी। मोहम्मद अली के परिवार में पत्नी जैसरून्निशा (60) के साथ बेटा अजमल (32), अकरम (28), बेटियां सना फातिमा (18), तरन्नुम फातिमा (22) के साथ अजमल की पत्नी सबीना बानो (30), बेटा एहसान (9), जुनैद (6) और अकरम की पत्नी जुनैरा बानो (26) साथ रहते थे।

पिलर पर होने के कारण घर के नीचे इधर कुछ दिनों से हो रही बारिश के कारण पानी भरा हुआ था। घर में शुक्रवार की रात सभी परिवारीजन सो रहे थे। देर रात अचानक भरभरा कर मकान एक साथ ढह गया। तेज आवाज सुन ग्रामीण जुटे और थोड़ी ही ग्राम प्रधान गुलाम दस्तगीर भी पहुंचे और मकान के अंदर फंसे लोगों को निकालने का प्रयास करने लगे।

सूचना पर पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची और जेसीबी मंगाकर मलबे को हटवाकर अंदर फंसे लोगों को बाहर निकलना शुरू किया। शनिवार की भोर में सना और उसकी बड़ी बहन तरन्नुम ने दम तोड़ दिया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.