August 9, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

Basti News: डीएम ने जिले के 56 विद्यालयों को वितरित किए स्वच्छता एवं कायाकल्प पुरस्कार

डीएम ने जिले के 56 विद्यालयों को वितरित किए स्वच्छता एवं कायाकल्प पुरस्कार

बस्ती 12 जुलाई। स्वच्छता एवं कायाकल्प पुरस्कार जिले की बेसिक शिक्षा परिषद के 56 विद्यालयों को जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने कलेक्ट्रेट सभागार में वितरित किया। इस अवसर पर उन्होंने शिक्षकों का आह्वान किया कि छात्र-छात्राओं को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करें। उन्होंने सभी विद्यालयों को संसाधनयुक्त बनाने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि ए.आर.पी. प्रतिदिन कम से कम 2 विद्यालयों का निरीक्षण करें तथा वहां रुक कर के शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाएं। उन्होंने निर्देश दिया कि प्रत्येक एबीएसए प्रतिदिन 5 विद्यालयों का निरीक्षण करें तथा अध्यापकों की उपस्थिति सुनिश्चित कराएं। इस अवसर पर बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा उन्हें प्रतीक चिन्ह भेंट किया गया।

उन्होंने कहा कि जनपद के 600 में से 504 विद्यालयों की बाउंड्रीवॉल का शिलान्यास 11 जुलाई को किया गया है। शेष विद्यालयों में भी शीघ्र ही बाउंड्रीवाल का निर्माण शुरू किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि निरीक्षण में उन्होंने पाया है कि नामांकन के मात्र 30 प्रतिशत विद्यार्थी विद्यालय में उपस्थित रहते हैं। दुबौलिया के एक विद्यालय का निरीक्षण करते समय उन्होंने पाया कि प्रभारी प्रधानाध्यापक ने ही एक साथ दो-दो शिक्षकों की छुट्टी स्वीकृत कर दिया था। उन्होंने कहा कि विद्यालय में नामांकन के अनुसार सभी छात्र-छात्राओं की उपस्थिति सुनिश्चित कराना अध्यापक की जिम्मेदारी है।

विद्यालय जब साफ-सुथरे होंगे, शिक्षा का अच्छा माहौल होगा तथा अध्यापक समर्पित भाव से अध्यापन कार्य करेंगे, तो निश्चित रूप से छात्र-छात्राओं का पढ़ाई में मन लगेगा। इस अवसर पर उन्होंने सभी मानकों पर सफल 7 विद्यालयों के प्रधानाध्यापक तथा उनके ग्राम प्रधान को प्रमाण पत्र एवं प्रतीक चिन्ह भेंट कर पुरस्कृत किया। 21 विद्यालयों, जो 2-4 मानकों पर ही सफल पाए गए उन को पुरस्कृत किया। इसके अलावा कायाकल्प योजना के तहत अच्छे विद्यालयों को प्रमाण पत्र प्रदान किया गया।

मुख्य विकास अधिकारी डॉ. राजेश कुमार प्रजापति ने कहा कि पुरस्कृत होने वाले सभी विद्यालय एवं अध्यापक अपने क्षेत्र में प्रेरक बन कर कार्य करें। अन्य विद्यालय उनका अनुसरण करते हुए स्वयं को सभी मानकों पर सफल बनाएं। उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान विद्यालयों में छात्र-छात्राओं की उपस्थिति बहुत कम पाई जाती है। अध्यापक गण शिक्षण कार्य के साथ-साथ छात्र-छात्राओं को सांस्कृतिक एवं खेलकूद की गतिविधियों में उनकी प्रतिभा को आगे बढ़ाएं। इस अवसर पर बीएसए इंद्रजीत प्रजापति ने सभी का स्वागत किया तथा स्वच्छता एवं कायाकल्प योजना पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम के दौरान एबीएसए, जिला समन्वयक गण तथा पुरस्कृत होने वाले प्रधानाध्यापक, अध्यापक-अध्यापिकाएं तथा ग्राम प्रधान गण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.