October 2, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

Basti News: डीएम ने लंबित शिकायतों वाले हलका लेखपाल एवं कानूनगो के विरुद्ध कार्यवाही का दिया निर्देश

डीएम ने लंबित शिकायतों वाले हलका लेखपाल एवं कानूनगो के विरुद्ध कार्यवाही का दिया निर्देश

-आइजीआरएस पोर्टल देखना तथा शिकायतों का समय बद्ध निस्तारण करें सभी अधिकारी

बस्ती 19 अगस्त |जन शिकायतों के गुणवत्ताहीन एवं समया अंतर्गत निस्तारण ना होने से नाराज जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने सर्वाधिक लंबित शिकायतों वाले हलके के लेखपाल एवं कानूनगो के विरुद्ध कार्यवाही करने का निर्देश दिया है। कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया है कि राजस्व संबंधी विवादों के निस्तारण के मामलों में शिथिल एवं लापरवाह कर्मचारियों के विरुद्ध कार्यवाही प्रस्तावित करे।

उन्होंने निर्देश दिया है कि यदि निलंबन की कार्यवाही की जाती है तो संबंधित कर्मचारी के विरुद्ध दीर्घ दंड प्रस्तावित करें। समीक्षा में उन्होंने पाया कि संपूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त 148 शिकायतें डिफाल्टर श्रेणी में आ गई है, जबकि संपूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों को 10 दिन के भीतर निस्तारित करना होता है। जिलाधिकारी ने कहा कि तहसील दिवसों में राजस्व संबंधी मामले अधिक रहते हैं इसलिए संबंधित लेखपाल एवं कानूनगो की जिम्मेदारी है कि वे समय से गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करें।

उन्होंने कहा कि इसी प्रकार थाना दिवसों में भी प्राप्त मामले जो राजस्व से संबंधित होते हैं के निस्तारण की जिम्मेदारी भी लेखपाल एवं कानूनगो की होती है। उन्हें मौके पर जाकर दोनों पक्ष से संपर्क करके प्रकरण का निस्तारण करना चाहिए। विभिन्न न्यायालयों में लंबित मामलों के संबंध में न्यायालय के निर्देशों का अनुपालन किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा निस्तारण के अनेक मामले सी श्रेणी में पाते हुए उन्हें जिलों को वापस किया जाता है। यह स्थिति ठीक नहीं है। संबंधित एसडीएम तथा तहसीलदार इस पर प्रभावी नियंत्रण करें।

उन्होंने निर्देश दिया कि थाना दिवस में सभी लेखपालों का थानावार उपस्थिति का रोस्टर जारी करके संबंधित सीओ को उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि प्रायः एक लेखपाल के जिम्मे कई हल्के होते हैं। रोस्टर के अनुसार लेखपाल निर्धारित थाने पर उपस्थित रहेंगे। समीक्षा में उन्होंने पाया कि एल-1 स्तर पर शिकायतों को गंभीरता से नहीं देखा जाता है, जिसके कारण उनकी गुणवत्ता प्रभावित होती है।

जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे प्रतिदिन आइजीआरएस पोर्टल देखना सुनिश्चित करें तथा शिकायतों का समय बद्ध निस्तारण करें। उनके द्वारा जानकारी लिए जाने पर अधीक्षण अभियंता विद्युत सुशील कुमार मौर्या द्वारा बताया गया कि 05542-282638 विद्युत संबंधी शिकायतों के निस्तारण के लिए कंट्रोल रूम का नंबर निर्धारित है। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा तत्काल इस नंबर पर फोन मिलाया गया और आपरेटर द्वारा प्राप्त शिकायतों के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।

जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि इसे चौबीसों घंटे सक्रिय रखा जाए ताकि लोग विद्युत संबंधी शिकायतें दर्ज करा सकें।

बैठक का संचालन अपर जिलाधिकारी अभय कुमार मिश्र ने किया। इसमें सीडीओ डॉ. राजेश कुमार प्रजापति, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट एवं एसडीएम अमृतपाल कौर, शैलेश दुबे, जीके झा, तहसीलदार सुधांशु, राधेश्याम गुप्ता, पीडी कमलेश सोनी, डीडीओ अजीत कुमार श्रीवास्तव, ई डिस्ट्रिक्ट मैनेजर सौरभ द्विवेदी, प्रभारी सीएमओ डॉक्टर ए के गुप्ता, उप निदेशक कृषि अनिल कुमार , बीएसए इंद्रजीत प्रजापति तथा विभागीय अधिकारी गण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.