August 9, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

Basti News: शहर में साफ-सफाई की व्यवस्था तथा कूड़ा उठान नियमित रूप से संचालित कराएं; डीएम

 

शहर में साफ-सफाई की व्यवस्था तथा कूड़ा उठान नियमित रूप से संचालित कराएं : डीएम

बस्ती 26 जून । बस्ती महायोजना 2031 के संबंध में आम जनता के सुझाव एवं आपत्ति प्राप्त करने के लिए मण्डलायुक्त/अध्यक्ष, बस्ती विकास प्राधिकरण गोविंद राजू एन.एस. ने अधिकारियों को निर्देशित किया है। बस्ती विकास प्राधिकरण की आठवीं बोर्ड की बैठक को सम्बोधित करते हुए उन्होने कहा है कि महायोजना 2031 इंटरनेट पर डाला जाय। प्राधिकरण कार्यालय में इसकी प्रति रखी जाय ताकि आम आदमी देख सके। साथ ही नो प्राफिट नो लास पर पुस्तक के रूप में छपवाकर वितरित कराया जाय ताकि लोग अपने सुझाव दे सकें।

उन्होने प्राधिकरण क्षेत्र में बस्ती जनपद के सुनियोजित विकास के लिए आवासीय, व्यवसायिक, कार्यालय स्थल, सामुदायिक केन्द्र, फायर स्टेशन, पार्किंग के लिए भूमि आरक्षित करने का भी निर्देश दिया है। उन्होने निर्देश दिया है कि विकास क्षेत्र में खाली पड़ी सरकारी भूमि, नजूल भूमि, बंजर, नवीन परती, खलिहान, चकमार्ग, रजवाहा आदि भूमि की सूची तैयार रखी जाय। उन्होने यह भी निर्देश दिया है कि जिस सरकारी भूमि पर अवैध कब्जा है, उसे तत्काल खाली कराया जाय। विशेष कार्याधिकारी सूरज यादव ने बताया कि प्राधिकरण द्वारा 16 भूमि चिन्हित की गयी है, जो कि सरकारी स्वामित्व की है। महुडर ग्राम स्थित भूमि के संबंध में सत्यापन कराया जा रहा है।

उन्होने रू0 4.64 करोड़ आवासविकास परिषद से प्राप्त करने के लिए कार्यवाही में तेजी लाने का निर्देश दिया। उल्लेखनीय है कि स्टाम्प शुल्क का दो प्रतिशत धन प्राधिकरण को प्राप्त होता है। भूलवश यह धन प्राधिकरण के बजाय आवास विकास परिषद के खाते में चला गया, जिसको प्राप्त करने की कार्यवाही शासन स्तर से की जा रही है। प्राधिकरण के गठन के बाद विनियमित क्षेत्र बस्ती द्वारा 1209 मानचित्र स्वीकृत किए गये, जो कि नियमानुसार सही नही था। इन सभी मानचित्रों का मानचित्रकार द्वारा परीक्षण कराया जाना है परन्तु मानचित्रकार न होने के कारण यह कार्य लम्बित है।

मण्डलायुक्त ने प्राधिकरण क्षेत्र मे हो रही अवैध प्लाटिंग पर अकुश लगाने के लिए निर्देश दिया है। प्राधिकरण द्वारा सघन अभियान चलाकर ऐसे 15 प्लांट चिन्हित किए गये है। उन्होने निर्देश दिया कि ऐसे अवैध प्लाटिंग के बाहर प्राधिकरण द्वारा इस आशय का बोर्ड लगाया जाय कि कालोनी में भूखण्ड खरीदना नियम विरूद्ध है। साथ ही इसकी सूची रजिस्ट्रार को भी भेजीं जाय। इसकी सूची सभी सदस्यों को उपलब्ध कराने के लिए मण्डलायुक्त ने निर्देश दिया है।

प्राधिकरण के सदस्यों ने मुख्य मार्ग पर अवैध अतिक्रमण हटवाने का सुझाव दिया। इसके साथ ही फौहारा चौराहा से रेलवे स्टेशन तक सड़क ठीक कराने का भी सुझाव दिया। बैठक में शास्त्री चौक स्थित 100 फिट ऊचे राष्ट्रीयध्वज के रख-रखाव के संबंध में भी चर्चा की गयी। विशेष कार्याधिकारी सूरज यादव ने बताया कि बस्ती महायोजना 2021 में 69 ग्राम सम्मिलित थे। प्राधिकरण के गठन के पश्चात् 217 राजस्व ग्राम इसमें सम्मिलित किए गये है।

जिलाधिकारी श्रीमती प्रियंका निरंजन ने नगर पालिका परिषद बस्ती को निर्देश दिया कि शहर में साफ-सफाई की व्यवस्था तथा कूड़ा उठान नियमित रूप से संचालित कराये। नगर पालिका क्षेत्र के पार्को का बेहतर रख-रखाव करे, अपनी आय बढाने के लिए नगर पालिका संसाधन जुटाये। बैठक का संचालन विशेष कार्याधिकारी सूरज यादव ने किया। इसमें अधिशासी अभियन्ता पंकज पाण्डेय, मुख्य कोषाधिकारी डा. श्रीनिवास त्रिपाठी, वित्त अधिकारी बैजनाथ श्रीवास्तव, प्राधिकरण के सदस्य यशकान्त सिंह, प्रेम सागर त्रिपाठी, परमेश्वर शुक्ल, प्रमोद कन्नौजिया, श्रीमती रूपम श्रीवास्तव, मो0 इदरीश, चुनमुनलाल, संयुक्त नियोजक हितेश कुमार, ईओ नगर पालिका अखिलेश त्रिपाठी एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.