October 2, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

Basti News: स्वस्थ रहनें के लिए नियमित करें योग;योग शिक्षक सुभाष चन्द्र आर्य

बस्ती 27जुलाई। नियमित ठीक समय से प्राणायाम करने पर हृदय, फेफड़े एवं मस्तिष्क सम्बन्धी समस्त रोग तो दूर होते ही है साथ में मोटापा, मधुमेह, कोलेस्ट्राल, कब्ज, गैस, अम्लपित्त, सांस रोग, माइग्रेन, रक्तचाप, किडनी के रोग, पुरुष और स्त्रियों के समस्त यौन रोग तथा सामान्य रोगों से कैंसर तक सभी साध्य असाध्य रोग दूर होते हैं।

उक्त बातें योग शिक्षक सुभाष चन्द्र आर्य ने पतंजलि योग समिति व भारत स्वाभिमान द्वारा आयोजित पचीस दिवसीय सह योग शिक्षक प्रशिक्षक शिविर में भस्त्रिका प्राणायाम कराते हुए कही। बताया कि घृतकुमारी का नियमित सेवन करने से शुगर, गठिया, पेट के रोग तो दूर होते ही है साथ ही चेहरे के मुॅहासे,झाइयाॅ मिटती है और सुन्दरता बढ़ती है।

 

 

इसके अलावा सूर्य नमस्कार एवं यौगिक जौगिंग के बारह अभ्यासों का विशेष प्रशिक्षण देते हुए उसके लाभों को बताया गया। इस अवसर पर ओम प्रकाश आर्य जिला प्रभारी भारत स्वाभिमान ने बताया कि 23जुलाई से प्रारम्भ हुआ यह प्रशिक्षण 16 अगस्त तक चलेगा जिसमें योग के मूलभूत सिद्धांत, शरीर रचना, ध्यान,एक्यूप्रेशर, उपासना के साथ साथ संध्योपासना व यज्ञ का भी प्रशिक्षण दिया जाएगा।

कहा कि योग शिक्षक बनना गौरव का विषय है क्योंकि इससे समाज के साथ साथ स्वयं के जीवन में आश्चर्यजनक परिवर्तन होते हैं तथा आम जनमानस की दुआयें मिलती हैं जो धन से नहीं प्राप्त की जा सकती हैं। संगीता यादव जिला प्रभारी महिला पतंजलि योग समिति ने बताया कि बहने योग शिक्षक बनकर अपने परिवार व समाज दोनों के लिए एक प्राथमिक चिकित्सक की भूमिका निभाती हैं। इसलिए पतंजलि योग समिति महिलाओं को प्राथमिकता देती है।

किसान प्रभारी अवधेश पाण्डेय ने बताया कि आगामी 4 अगस्त को वनौषधि पण्डित आचार्य बालकृष्ण जी का जन्मदिन जड़ी बूटी दिवस के रूप में मनाया जायेगा। इस अवसर पर आमजनमानस को औषधीय पौधों का वितरण किया जाएगा और किसानों को जीरो बजट खेती का प्रशिक्षण दिया जायेगा तथा किसानों के जैविक उत्पाद भी बिक्री के लिए उपलब्ध होंगे। इस अवसर पर राम अचल चौरसिया, जवाहर यादव आदि योग शिक्षकों ने साधकों को योग करने में सहायता की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.