Category: भारतीय वीर सैनिक

स्वतंत्रता दिवस 2019 : कहां थे उस दिन महात्मा गांधी, पढ़ें 15 अगस्त 1947 की 10 रोचक बातें

15 अगस्त का दिन पूरे भारत में स्वतंत्रता दिवस (independence day) के रूप में मनाया जाता है। सन् 1947 में इसी दिन भारत को ब्रिटिश शासन से आजादी मिली थी। हिन्दु्स्ता को […]

रणनीति / कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान से पहले भारत ने चला दांव, संयुक्त राष्ट्र में रखा अपना पक्ष

भारत ने कश्मीर मसले पर अंतरराष्ट्रीय बिरादरी को अपने पक्ष में करने के लिए जोर आजमाइश शुरू कर दी है। भारत की तरफ से कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने जाने की घटना […]

ये है भारत का सबसे खतरनाक रेजिमेंट जिसके छींक के आगे दुश्मनों की बंदूक भी थम जाती है!

भारत देश के वीर जवानो की बात करे तो हर मुश्किल में देश की रक्षा के लिए तैनाव रहते है। हमारे देश की रक्षा करने वाले जवानों को ऐसी ट्रेनिंग दी जाती […]

जिस दुश्मन की बहादुरी की कायल थी ब्रितानी फ़ौज

दो सौ साल पहले के ऐतिहासिक नालापानी युद्ध का गवाह रहा खलंगा का किला खुद को बचाए जाने का इंतजार कर रहा है. खलंगा उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के पास है. अंग्रेज़ों […]

आज़ादी मिलने से पहले 6 बार बदल चुका है ‘तिरंगे’ का रूप और रंग, रोचक है इसका इतिहास

आज 15 अगस्त यानि स्वतंत्रता दिवस है. ( आज ये दिन तारीख़ तो है नहीं लेकिन मैं लिख रहा हूं) आज ही के दिन भारत को एक आजाद देश भी घोषित किया […]

अब्दुल हमीद: सेना का वो शेर, जिसने उड़ा दिए थे पाकिस्तान के 8 टैंक

आज कंपनी क्वार्टर मास्टर हवलदार अब्दुल हमीद का जन्मदिन है. हमीद भारतीय सेना के वो वीर हैं, जो वीरता और साहस का परिचय देते हुए 1965 के भारत-पाक युद्ध में कई पाकिस्तानी […]

भारत मां के अमर सबूत बीर अब्दुल हमीद की जयंती पर नमन

राष्ट्रधर्म सर्वोपरि होता है अपनी शहादत से देशवासियो को यही सन्देश दिया था अमर शहीद वीर अब्दुल हमीद जी ने । उनके शहादत दिवस पर सत् सत् नमन है । मिट्टी में […]

सद्बुद्धि और विवेक क्या है?

सद्बुद्धि क्या है सद्बुद्धि को लेकर विचार विमर्श सद्बुद्धि अर्थात परमात्मा द्वारा प्रदत्त विशेष बुद्धि जिससे मनुष्य अपने विवेक से स्वयं का व समाज का कल्याण करता है। सदबुद्धि जरूरी नहीं कि […]

कौन हैं भारत माता और कहां से आया ‘भारत माता की जय’

पिछले कुछ समय से ‘भारत माता’ और ‘भारत माता की जय,’ इसे लेकर देशभर में खूब विवाद हो रहा है। कोई पार्टी कहती है कि यह नारा देश के लिए आपके समर्पण […]

कुछ बात है हममें कि हस्ती मिटती नहीं हमारी..?

किसी निराश हताश समाज को उसके गौरवपूर्ण अतीत का स्मरण करा कर उसका मनोबल बढ़ाना तो उचित है , परन्तु उस गौरवपूर्ण अतीत पर आत्ममुग्ध हो यथार्थ से विमुख हो जाना दुर्भाग्यपूर्ण […]