Category: सफलता के मंत्र

यूपी पीसीएस : डिप्टी कलेक्टर में अमित शुक्ला तो डिप्टी एसपी में मयंक बने टॉपर

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीसीएस) ने 2017 का अंतिम चयन परिणाम जारी कर दिया है। लिखित परीक्षा का परिणाम सात सितंबर 2019 को घोषित किया गया था। इसके बाद 2029 अभ्यर्थियों […]

यूपीपीसीएस 2017: प्रतापगढ़ के अमित शुक्ला बने टॉपर, टॉप-5 में दो लड़कियां भी शामिल

प्रयागराज:उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने पीसीएस 2017 परीक्षा का अंतिम परिणाम जारी कर दिया है। 27 प्रकार के 676 पदों के लिए हुई इस परीक्षा के लिए इंटरव्यू-16 सितंबर से 1 […]

सबसे ज्यादा अनपढ़ लोगों का देश

  यह दुखद सच्चाई पिछले दिनों एक सर्वेक्षण के जरिये सामने आई कि भारत अनपढ़ वयस्कों की सर्वाधिक आबादी वाला देश है। आंकड़ा बताता है कि अनपढ़ों की यह जनसंख्या उन्तीस करोड़ […]

एक अकेली अनपढ़ महिला जिसने खड़ा किया करोड़ो का कारोबार, 100 से ज्यादा महिलाओं को दे रही हैं रोजगार

बहुत कम लोग कृष्णा यादव के नाम से वाकिफ हैं। लेकिन ऐसी बहुत सी जुझारू और सफल महिलाएं हमारे आसपास हैं, जिन्होंने अपनी सूझबूझ और मेहनत के दम पर न सिर्फ अपना […]

महिला शक्ति: कृषक मजदूर से फैक्ट्री मालकिन बनी कृष्णा यादव

  उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से रोजगार की तलाश में दिल्ली पहुंचे गोवर्धन यादव और उनकी पत्नी कृष्‍णा यादव कभी खेतों में सब्जी उगाकर फुटपाथ पर बेचा करते थे। लेकिन कृष्‍णा यादव […]

जमाने ने उसे बार-बार ठुकराया लेकिन एक दिन ऐसा चमकी कि लोग देखते रह गए, और बन गई दुनिया की सबसे अमीर लेखिका

उसने जिंदगी की शुरुआत में जितने काम किए, सभी में वो फेल हुई. प्यार में धोखा खाया. लेकिन खुद भरोसा देती रही कि एक दिन सबकुछ बदलेगा.   ये एक बहुत मामूली […]

नाकामी के बाद एक किसान ने कैसे खड़ा कर दिया बहुत बड़ा अंपायर

हालत ये थी कि ना तो उसको पिता पसंद कर रहे थे. ना पड़ोसी और साथ में काम करने वाले. सभी को लगता था कि उसके दिमाग को कोई स्क्रू ढीला है. […]

नौंवी कक्षा में फेल होने के बाद भी इस खिलाड़ी के नहीं रुके

हार्दिक पंड्या उन खिलाड़ियों में शामिल है जो भारतीय टीम का एक अहम हिस्सा है. बल्ले और गेंद दोनों से लगातार शानदार प्रदर्शन कर पंड्या ने यह जगह कमाई है. हालांकि क्रिकेट […]

बिड़ला समेत देश के वो चार बड़े बिजनेसमैन, जिन्होंने बगैर पढ़े खड़ा किया बड़ा साम्राज्य

जीवन में सफलता के कदम चूमने के लिए साक्षर होना, उच्च शिक्षा हासिल करना, बड़े-बड़े विश्वविद्यालयों में भारी-भरकम लेक्चर सुनना अनिवार्य नहीं है. इन बातों को हम नहीं कह रहे इन बातों […]

कभी कॉलेज में दाख़िला के लिए रोया आज है फ़ोर्ब्स की लिस्ट में शामिल

तीर्थक साहा – आजकल भारत कितना आगे बढ गया है इस बात का अंदाजा इसे लगाया जा सकता है कि अब दूसरे देशो की ही तरह ही भारतीय लोग भी कम उम्र […]