January 23, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

Shehla Rashid:JNU की पूर्व छात्रा शेहला राशिद के पिता अब्दुल ने बेटी के आरोपों पर किया पलटवार, पूछे सवाल

जेएनयू की छात्रा शहला रशीद (Shehla Rashid News) एकबार फिर से चर्चा में हैं। दरअसल, शहला के पिता ने उनपर देशद्रोह और देश विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगा दिया है और इस बारे में पुलिस महानिदेशक को एक पत्र भी लिखा है। ऐसा पहली बार नहीं है जब शहला विवादों में आई हों उनपर पहले भी कई आरोप लगे हैं।

नई दिल्ली: शहला (Shehla Rashid Kaun Hai) अपने बयानों से लगातार सुर्खियां बटोरती रही हैं। अपने गृह राज्य जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 खत्म किए जाने को लेकर शहला ने कई विवादित बयान दिए थे। वह कुछ दिनों तक राजनीति में भी रही थीं। जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने का शहला ने विरोध किया था।

शहला कन्हैया कुमार के साथ

जानिए कौन हैं शहला रशीद

जम्मू-कश्मीर से ताल्लुक रखने वाली शेहला जवाहर लाल नेहरू छात्र संघ की उपाध्यक्ष रह चुकी हैं। फरवरी 2016 में जेएनयू के तत्कालीन छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार और उमर खालिद के राजद्रोह के आरोप में गिरफ्तारी के बाद शहला ने प्रदर्शन किए थे और भारत विरोधी बयानबाजी भी की थी। 

पेशे से इंजीनियर रही हैं शहला

शहला ने एनआईटी श्रीनगर से इंजीनियरिंग की तालीम हासिल करने वाली शहला ने बतौर इंजीनियर नौकरी भी की है। बाद में वह सामाजिक आंदोलनों से जुड़ गईं। 

3 करोड़ के पैकेज का सच क्या?

3-

शहला के पिता ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी शहला कश्मीर में हुर्रियत जैसी नई पार्टी खड़ी करना चाहती थी। उसका इरादा कश्मीर में युवाओं को बरगला कर अलगाववाद के साथ जोड़ने का था। उन्होंने आरोप लगाया कि बिजनसमैन जहूर अमहद शाह वटाली ने शहला को JKPM पार्टी में शामिल होने के लिए 3 करोड़ रुपये का प्रस्ताव दिया था। इस पार्टी को आईएएस टॉपर रहे शाह फैसल ने शुरू किया था। शाह अब राजनीति से दूर हो चुके हैं और उनका आईएएस से इस्तीफा केंद्र सरकार के पास पेंडिंग पड़ा हुआ है।

राजद्रोह का दर्ज हुआ था केस

शहला ने 18 अगस्त 2019 को कई ट्वीट कर सेना पर कश्मीरियों पर अत्याचार करने के आरोप लगाए थे। सेना ने इन आरोपों को झूठा बताया था। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने शहला के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज किया था।

राजनीति में भी हाथ आजमा चुकी हैं शहला

शहला ने राजनीति में भी हाथ आजमाया है। पहले वह नैशनल कॉन्फ्रेंस में शामिल हुई थी। बाद में शहला आईएएस की नौकरी छोड़ राजनीति में आए शाह फैसल की पार्टी JKPM में शामिल हुई थीं। हालांकि बाद में उन्होंने चुनावी राजनीति से संन्यास का ऐलान कर दिया था।

अब पिता ने बता दिया ऐंटी नैशनल

शहला के पिता अब्दुल रशीद शौरा ने सोमवार को अपनी बेटी को ऐंटी नैशनल बता दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी बेटी देशविरोधी गतिविधियों में शामिल है। शहला के पिता अब्दुल रशीद ने दावा किया कि वर्ष 2017 में उनकी बेटी अचानक ही कश्मीर की राजनीति में आ गई थी। पहले वह नैशनल कॉन्फ्रेंस में शामिल हुई थी। उसके बाद जेकेपीएम में शामिल हुई थी। उन्होंने बताया कि टेरर फंडिंग मामले में पहले ही इंजीनियर रशीद और जुहूर वटाली गिरफ्तार हैं। इन नेताओं ने उनकी बेटी को नई पार्टी में शामिल होने के लिए तीन करोड़ रुपये के पैकेज की पेशकश की। अब्दुल रशीद ने बताया कि जून 2017 में इन दोनों नेताओं ने उसे वटाली के घर पर बुलाया था, जो कि श्रीनगर में है। वहां पर उसे कहा गया कि वे लोग नई पार्टी बनाने जा रहे हैं और उसमें उनकी बेटी को जोड़ा जाएगा।

जेएनयू की पूर्व छात्रा शहला रशीद (Shehla Rashid) के पिता अब्दुल रशीद ( Abdul Rashid) ने मंगलवार को एक बार फिर से अपनी बेटी पर आरोप लगाए. अब्दुल रशीद ने शहला रशीद द्वारा लगाए गए घरेलू हिंसा के आरोपों को भी खारिज किया. उन्होंने एक बार फिर शहला के फंड की जांच की मांग की.

पिता अब्दुल रशीद के शहला पर आरोप
शहला रशीद (Shehla Rashid) के पिता अब्दुल रशीद (Abdul Rashid) ने कहा, ‘मेरे ऊपर व्यक्तिगत आरोप लगाए गए हैं. मुझे उससे कोई लेना देना नहीं है. अगर मेरे ऊपर डोमेस्टिक वायलेंस के चार्जेस लगाए हैं तो बरी भी किया गया है. हमारा कोई डोमेस्टिक वायलेंस का केस नहीं है.’

अब्दुल रशीद (Abdul Rashid) ने बेटी शहला पर आरोप लगाते हुए आगे कहा कि कश्मीर पॉलिटिक्स में कूदने के लिए इसका क्या एजेंडा है? क्या करने आ गई है कश्मीर? नेशनल कॉन्फ्रेंस में क्यों आई है? अगर मैं मारता हूं तो मेरे खिलाफ 3 से 4 बार एफआईआर हो गई होगी. मैं चाहता हूं एक बार जांच हो जाए. मैं भागा-भागा यहां इसलिए आया क्यूंकि मुझे धमकी मिली थी. SHO ने मेरा साथ नहीं दिया.

उन्होंने आगे कहा, ‘शहला ने पार्टी बनाई और फिर अमेरिका चली गई. उसके सारे फंड देश विरोधी ताकतों से आते हैं. कोई राष्ट्रीय पार्टी उसको फंड नहीं देगी. मैंने डीजी सर से सुरक्षा मांगी है और उनसे इसके फंड की जांच करने का आग्रह किया है.’

पिता के आरोपों पर शहला रशीद की सफाई
पिता अब्दुल रशीद द्वारा गंभीर आरोप लगाए जाने के बाद शहला रशीद (Shehla Rashid) ने ट्वीट करके सफाई दी. शहला रशीद ने अपने पिता के आरोपों खारिज करते हुए कहा कि मेरे पिता ने मुझ पर जो आरोप लगाए हैं वो एक पुराना मामले से जुड़े हैं.

शहला रशीद ने अपने ट्वीट लिखा, ‘मेरे जैविक पिता ने मेरी मां, बहन और मुझ पर गंभीर आरोप लगाए हैं, तो ऐसे में ये साफ कर दूं कि वो पत्नी को पीटने वाले, दूसरों को गालियां देने वाले इंसान हैं.’

पिता के आरोप पर शहला ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि परिवार में ऐसा नहीं होता, जैसा मेरे पिता ने किया है। उन्होंने मेरे साथ-साथ मेरी मां और बहन पर भी बेबुनियाद आरोप लगाए हैं। शहला ने ट्वीट करते हुए कहा कि वह पत्नी को पीटने वाला और एक अपमानजनक, नापाक आदमी है। हमने आखिरकार उनके खिलाफ कार्रवाई करने का फैसला किया है और यह स्टंट उसी का हिस्सा है। शहला ने बयान जारी करते हुए कहा कि उन्हें 17 नवंबर से ही घर में आने से रोका हुआ है।


शहला ने कहा कि ये कोई राजनीतिक मामला नहीं बल्कि हमारा पारिवारिक मामला है. जब से अदालत ने उनके हमारे घर में घुसने पर रोक लगाई है तब से वो ऐसी हरकतें करते हुए कानूनी प्रक्रिया को भरमाने की कोशिश कर रहे हैं.

पहले पिता अब्दुल ने बेटी शहला रशीद पर लगाए थे ये आरोप
सोमवार को शहला रशीद के पिता ने कहा था, ‘जो लोग आज टेरर फंडिंग में NIA की गिरफ्त में हैं चाहे वह पॉलीटिशियंस हैं या बिजनेसमैन हैं, ऐसे में आतंकी गतिविधियों में कहीं ना कहीं इसका भी साथ जरूर दिख रहा है और ऐसा इसने क्यों किया ये उनकी समझ से बाहर है. मैंने उसे कई बार समझाया कि इन सब चीजों से दूर रहो लेकिन अब मुझे जान से मारने की धमकी मिल रही है.’

जेएनयू की पूर्व छात्रा शहला रशीद के पिता अब्दुल रशीद ने आगे आरोप लगाया कि उन्हें मुंह बंद रखने के लिए पैसे भी ऑफर किए जा रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.