December 3, 2020

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

UP:अब DNA पर यूपी में आर-पार, SP बोली- टेस्ट कराएं योगी, सिर्फ नफरत निकलेगी

एसपी ने सीएम योगी पर हमला करते हुए कहा, ” योगी जी डीएनए टेस्ट करा कर देखिए आपके डीएनए में नफरत के अलावा कुछ भी नहीं मिलेगा. पूरी भारतीय जनता पार्टी के डीएनए में ही नफरत भरी हुई है.”

लखनऊ |उत्तर प्रदेश की राजनीति में अब डीएनए के नाम पर नया घमासान शुरू हो गया है. समाजवादी पार्टी ने कहा है कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ अपना डीएनए टेस्ट कराएं, इसमें सिवा नफरत के कुछ नहीं मिलेगा. समाजवादी पार्टी का ये बयान सीएम योगी के उस बयान की प्रतिक्रिया में आया है, जिसमें उन्होंने कांग्रेस समेत विपक्ष पर हमला करते हुए कहा था कि कुछ लोगों के डीएनए में विभाजन है, इन्होंने पहले देश को बांटा अब लोगों को बांट रहे हैं. 

सीएम योगी के इस बयान पर समाजवादी पार्टी ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता एवं एमएलसी सुनील सिंह साजन ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का यह बयान कि विपक्ष के डीएनए में विभाजन है, शर्मसार करने वाला है. 

एसपी ने सीएम योगी पर हमला करते हुए कहा, “योगी जी डीएनए टेस्ट करा कर देखिए आपके डीएनए में नफरत के अलावा कुछ भी नहीं मिलेगा. पूरी भारतीय जनता पार्टी के डीएनए में ही नफरत भरी हुई है.”

सपा प्रवक्ता सुनील सिंह साजन ने सीएम पर सियासी तीर चलाते हुए कहा कि अपने वैचारिक आकाओं के बारे में आप जानते हैं कि नहीं, उनका क्या इतिहास है आपको पता है? आपके वैचारिक आका अंग्रेजों के मददगार, मुखबिर थे. 

सपा नेता ने कहा कि क्रांतिकारियों के खिलाफ उन्होंने बयान दिए हैं, वो दस्तावेज में दर्ज हैं. सपा नेता ने आगे कहा, “आप यह कैसे कह सकते हैं कि सिर्फ आप देश प्रेमी हैं, बाकी लोग देश विरोधी हैं. आप अपना डीएनए जरूर टेस्ट कराइए, नफरत के सिवा कुछ भी नहीं मिलेगा.

बता दें कि शनिवार को सीएम योगी ने कहा था कि खतरनाक सोच विपक्ष के डीएनए का हिस्सा बन चुका है.

सीएम योगी ने कहा था कि राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर जब पूरा देश उमंग और उत्साह में था, तब कुछ लोग राज्य में दंगे भड़काने की साजिश रच रहे थे. 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने जनता को विपक्ष की विभाजनकारी नीतियों से सावधान रहने की अपील की है. कांग्रेस, सपा और बसपा का बिना नाम लिए मुख्यमंत्री ने कहा है कि विपक्षी दलों की सोच घटिया और इरादे खतरनाक हैं. विभाजन इनके डीएनए में है. इसी सोच के तहत इन्होंने पहले देश को बांटा और अब जाति, संप्रदाय, मजहब और क्षेत्र के नाम पर समाज को बांटने की फ़िराक में हैं. इनके लिए अपना खानदान का हित ही सर्वोपरि है, बाकी सब गौण. 15 साल तक प्रदेश की सत्ता पर काबिज रहने वाली बसपा और सपा के पास उपलब्धि के नाम पर सिर्फ भ्रष्टाचार और अराजकता है. समय-समय पर इन दलों ने अपने हित में लोकतंत्र और संविधान का गला घोटा है. इनका विकास सिर्फ नारों और भाषणों तक सीमित रहा है.

मुख्यमंत्री, शनिवार को यहां अपने आवास पर देवरिया सदर विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव के मद्देनजर वहां के मंडल, सेक्टर और बूथ के प्रमुख पदाधिकारियों की वर्चुअल बैठक को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि विकास की असली शुरुआत तो छह साल पहले केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुआई में भाजपा की सरकार बनने के साथ हुई. प्रधानमंत्री के ही मार्गदर्शन में वहीं काम उत्तर प्रदेश में हो रहा है. योगी ने कहा कि चौतरफा विकास के नाते भाजपा की लोकप्रियता लगातार बढ़ रही है.

जनता में एक सकारात्मक भाव पैदा हुआ है. ऐसे में कोई चांस न देखकर इन दलों की नाखुशी अब हताशा में बदल चुकी है. लिहाजा वे सरकार को बदनाम करने का हर हथकंडा अपना रहे हैं. पर इनके मंसूबे कभी पूरे होने वाले नहीं. सीएम योगी ने कहा कि 1974 से 2017 के बीच इंसेफेलाइिटस से पूर्वांचल के 50 हजार मासूमों की मौत हुई. मरने वालों में से अधिकांश गरीबों के बच्चे थे. कभी किसी ने आवाज नहीं उठाई. सिर्फ तीन वर्षों में हम इंसेफेलाइटिस को जड़ से समाप्त करने की ओर हैं.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Powered By : Webinfomax IT Solutions .
EXCLUSIVE