February 27, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

UP:भाजपा को पाकिस्तान से खतरा या किसान से?-अखिलेश यादव

लखनऊ |पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रविवार को कंपिल में कहा कि 26 जनवरी पर पूरा देश गणतंत्र दिवस मनाने जा रहा है और किसान आंदोलन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार इस अच्छे अवसर पर किसानों की बात मान ले और तीनों काले कानून खत्म कर दे। अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा के लोग किसानों की आय दोगुनी करने की बात कहते हैं, आय तो दोगुनी नहीं हुई किसान जरूर बरबाद हो गया। उन्होंने कहा कि किसान चाहता है कि एमएसपी का कानून आए जिसे सरकार को अगले सत्र में पेश कर देना चाहिए।

सपा मुखिया ने सवाल पूछा क्या किसान को धान की कीमत मिल पाई और खेत में तैयार सरसों कीमत क्या मिल पाएगी। पूर्व सीएम ने सवाल किया कि सरकार अभी तक कहती थी भारत को पाकिस्तान से खतरा है, चीन से खतरा है लेकिन अब किसानों की ट्रैक्टर ट्राली से कैसे खतरा हो गया है। किसान ट्रैक्टर में डीजल भरवाने जाता है तो उसे पकड़ने के लिए पुलिस तैयार बैठी है, सरकार बताए किसान से उसे कैसा खतरा है। पूर्व सीएम ने कहा कि हिन्दुस्तान को बनाने वाला किसान है और किसानों का ही यह हिन्दुस्तान है।

अखिलेश ने कहा कि विधानसभा चुनाव सपा अकेले लड़ेगी और अकेले सरकार बनाएगी। उन्होंने दावा किया कि समाजवादी पार्टी 350 से ज्यादा सीटें जीतेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा ने झूठ बोलकर 324 सीटें जीती हैं, वह समाजवादी विकास, समाजवादी विचारधारा, समाजवादी फैसलों को लेकर जनता के बीच जाएंगे। विधानसभा में गठबंधन के सवाल पर साफ कहा कि कोई समझौता नहीं होगा, पर चाचा से समझौते के सवाल वह बोले छोटे दलों के लिए रास्ता खुला हुआ है।

 

अखिलेश का BJP पर तंज, `इलाहाबादी प्रयागराजी अमरूद` हो गया क्या?

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने अमरूद को लेकर भाजपा (BJP) पर तंज कसा और कहा अभी भी सबसे प्रसिद्ध अमरूद ‘इलाहाबादी अमरूद’ कहलाता है या उसका भी नाम बदलकर ‘प्रयागराजी अमरूद’ हो गया है?

 

ट्विट करते हुए पूछा सवाल

रामपुर दौरे पर पहुंचे समाजवादी पार्टी के नेता ने रास्ते में एक अमरूद के ठेले पर रुक कर अमरूद खरीदा. इसी दौरान की एक फोटो सोशल मीडिया पर साझा करते हुए उन्होंने कैप्शन में लिखा, ‘भाई अभी भी सबसे प्रसिद्ध अमरूद ‘इलाहाबादी अमरूद’ कहलाता है या उसका भी नाम बदलकर ‘प्रयागराजी अमरूद’ हो गया है.’

 

योगी सरकार ने बदले हैं कई नाम

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्नाथ सरकार ने साल 2018 में सबसे पहले मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीन दयाल उपाध्याय स्टेशन कर दिया था. इसके अलावा उन्होंने दो जिलों फैजाबाद और संगम नगरी इलाहाबाद के नाम भी बदललाव कर अयोध्या और प्रयागराज कर दिया गया है. वहीं अभी भी कई जिलों के नाम बदलने की मांग उठ रही है.

UP के दौरे पर हैं सपा मुखिया

 

दरअसल, इन दिनों सपा मुखिया जिलों के दौरे पर हैं और यूपी में 2022 के विधान सभा चुनाव के लिए माहौल बना रहे हैं. इससे पहले शुक्रवार को उन्होंने रामपुर और बरेली का दौरा किया था. यहां उन्होंने आजम खां की पत्नी व सपा विधायक डॉ. तंजीन फात्मा से मुलाकात की थी. प्रदेश में भाजपा की सरकार आने के बाद आजम खां और उनके परिवार के खिलाफ कई मुकदमे दर्ज हुए थे. कुर्की का आदेश जारी होने के बाद आजम खां ने अपनी पत्नी डॉ. तंजीन फात्मा और पुत्र अब्दुल्ला आजम के साथ 26 फरवरी 2020 को कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.