January 27, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

UP:यूपी में फिल्म इंडस्ट्री कभी विकसित नहीं हो सकती,प्रियंका और अखिलेश ने भाजपा पर साधा निशाना

लखनऊ. उत्‍तर प्रदेश सरकार की नोएडा में फिल्‍म सिटी (Film City in Noida) बनाने की योजना को लेकर न सिर्फ भाजपा बनाम शिवसेना और कांग्रेस की बयानबाजी जारी है बल्कि इस मामले में अब समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) भी कूद गए हैं. यही नहीं, यूपी के पूर्व सीएम ने राज्‍य में फिल्म इंडस्ट्री के सफल होने पर ही सवाल खड़ा कर दिया है. वैसे फिल्‍म सिटी की योजना को साकार करने के लिए मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) इन दिनों मुंबई में मौजूद हैं और वह सुपरस्‍टार अक्षय कुमार समेत बॉलीवुड की तमाम हस्तियों से मिल रहे हैं. इस बीच, महाराष्‍ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के एक बयान से हंगामा मचा दिया है. महाराष्‍ट्र के सीएम ने कहा कि किसी को फिल्मोद्योग को ‘जबरन’ यहां से ले जाने नहीं दिया जाएगा. वहीं, योगी ने इस पर पलटवार करते हुए कहा कि यह खुली प्रतिस्पर्धा है और जो प्रतिभा को उभरने के लिए सही माहौल और सुरक्षा दे सकेगा, उसे निवेश मिलेगा.

अखिलेश यादव ने की भविष्‍यवाणी

यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट के जरिए भाजपा सरकार और योगी आदित्‍यनाथ पर हमला बोला है. उन्‍होंने लिखा,’ बहुरंगी व बड़े मानसिक क्षितिज की उम्मीद रखने वाली फिल्म इंडस्ट्री आज की एकरंगी व संकीर्ण सोच वाली सत्ता के रहते कभी भी विकसित नहीं हो सकती. कल को ये लोग फिल्म के विषय, भाषा, पहनावे और दृश्यों के फ़िल्मांकन पर भी अपनी पाबंदियां लगाएंगे. मान्यवर अभिनय व भ्रमण छोड़ प्रदेश संभालें!

इससे पहले अखिलेश यादव ने लिखा, “हम कृषि क़ानूनों के इस संघर्ष में अपने अन्नदाता भाइयों के लिए आटा, दाल, चावल की कमी नहीं होने देंगे. हम सपा के कार्यकर्ताओं व आम जनता से अपील करते हैं कि वो अन्नदाता की हर संभव मदद करें. डॉक्टरों से विशेष आग्रह है कि वो बुजुर्ग किसानों का ख़्याल रखें.”

भाजपा बनाम शिवसेना

मुंबई फिल्म सिटी को कहीं और ले जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम कहीं कुछ नहीं ले जा रहे. मुंबई फिल्म सिटी मुंबई में ही काम करेगी. जबकि यूपी में नई फिल्म सिटी को नई आवश्यकताओं के अनुसार एक नए वातावरण में विकसित किया जा रहा है. मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि फिल्म उद्योग को मुंबई से बाहर ले जाने का उनका कोई इरादा नहीं है. हम किसी का निवेश नहीं छीन रहे हैं. कोई अपने साथ कुछ नहीं ले जा सकता. यह कोई पर्स नहीं है जिसे ले जाया सकता है. यह खुली प्रतिस्पर्धा है. जो सुरक्षित माहौल, बेहतर सुविधाएं और विशेष रूप से सामाजिक सुरक्षा दे सकेगा, उसे निवेश प्राप्त होगा. इसके अलावा सीएम ने कहा कि निर्माता, निर्देशक, एक्टर और फिल्म जगत के विभिन्न पक्षों के जानकारों के साथ भी फिल्म सिटी को लेकर चर्चा हुई. ये फिल्म सिटी जेवर एयरपोर्ट से 6 किमी की दूरी पर होगी. यहां से आगरा 1 घंटे की दूरी पर है.

शिवसेना सांसद संजय राउत ने बुधवार को कहा कि मुंबई की ‘फिल्म सिटी’ को कहीं और स्थापित करना आसान नहीं, हालांकि ऐसा करने की कोशिश की गई है. शिवसेना के प्रमुख प्रवक्ता ने कहा कि पहले भी ऐसी कोशिशें की गई हैं. मुंबई फिल्म सिटी जैसा कुछ भी कहीं भी स्थापित करना आसान नहीं है. मुंबई का एक शानदार फिल्म इतिहास है. राउत ने कहा कि दक्षिण और बंगाल में भी फिल्म उद्योग है. दक्षिणी सुपरस्टार रजनीकांत, नागार्जुन, चिरंजीवी ने भी हिंदी फिल्मों में काम किया है. इसके अलावा राज्यसभा सांसद ने पूछा कि क्या योगी जी उन राज्यों का भी रुख करेंगे या सिर्फ मुंबई को निशाना बनाया जा रहा है?

वहीं प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी ट्वीट कर बीजेपी पर निशाना साधा है. प्रियंका ने लिखा है, “भाजपा सरकार के मंत्री व नेता किसानों को देशद्रोही बोल चुके हैं. आन्दोलन के पीछे इंटरनेशनल साजिश बता चुके हैं. आन्दोलन करने वाले किसान नहीं लगते बोल चुके हैं. लेकिन आज बातचीत में सरकार को किसानों को सुनना होगा. किसान कानून के केंद्र में किसान होगा न कि भाजपा के अरबपति मित्र.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.