June 25, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

UP: अधिकारियों में दिख रहा राजशाही अंदाज, फतेहपुर डीएम ने अपनी गाय की देख रेख के लिए लगाई 7 डॉक्टरों की ड्यूटी

फतेहपुर (Fatehpur) के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO) का एक अनोका फरमान सामने आया है. यहां सीएमओ ने जिलाधिकारी (Fatehpur DM) के लिए एक स्पेशल ट्रीटमेंट का आदेश दिया है.

 

News Desk 12 जून|किसी से छिपा नहीं है कि गौशाला में न जाने कितने गोवंशी बीमारी के चलते दम तोड़ रहे हैं, इतना ही नहीं गोशाला संचालक भी पशु चिकित्सक न मिलने की भी शिकायतें करते रहते हैं। लेकिन, जिले में डीएम की गाय के लिए सीवीओ ने पशु चिकित्सकों की पूरी फौज लगा दी है। सप्ताह के सातों दिन अलग अलग पशु चिकित्सकों की ड्यूटी दिनवार तय कर दी है। सीवीओ के जारी आदेश की कॉपी इंटरनेट मीडिया के सोशल प्लेटफार्म पर वायरल हो रही है।

उत्तर प्रदेश में फतेहपुर (Fatehpur) के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO) का एक अनोखा फरमान सामने आया है. यहां के सीएमओ ने जिलाधिकारी के लिए एक स्पेशल ट्रीटमेंट वाला आदेश जारी किया है. सीएमओ ने फतेहपुर डीएम (Fatehpur DM) की गाय को देशभाल के लिए यहां के डॉक्टरों की ड्यूटी अलग से लगाई है. जिसके लिखित आदेश सीएमओ डॉ एसके तिवारी द्वारा जारी किया गया है.

 

सीएमओ द्वारा जारी आदेश में कहा गया है, “जिलाधिकारी की गाय की चिकित्सा करने हेतु निम्नलिखित पशु चिकित्साधिकारी की प्रतिदिन सुबह-शाम की ड्यूटी लगायी गई है. साथ ही सनगांव के पशु चिकित्साधिकारी डॉ दिनेश कुमार से समंवय स्थापित कर प्रतिदिन सुबह-शाम देखने की सूचना अधोहस्ताक्षरी के कार्यालय में शाम 6 बजे तक दूरभाष के माध्यम से अवगत कराएंगे.”

इन डॉक्टरों की लगी ड्यूटी

बता दें कि फतेहपुर डीएम अपूर्वा दुबे के आवास पर एक गाय है, जिसकी तबियत कुछ गड़बड़ है. इसी की देखभाल के लिए 7 सरकारी डॉक्टरों की टीम मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ने लगाई है. डॉक्टरों की टीम में डॉ. मणीष अवस्थी, डॉ. भुवनेश कुमार, डॉ. अनिल कुमार, डॉ. अजय कुमार दुबे, डॉ. शिवस्वरूप, डॉ. प्रदीप कुमार और डॉ. अतुल कुमार की ड्यूटी डीएम आवास पर लगाई गई है. हालांकि अभी तक पशु चिकित्साधिकारी की तरफ से कोई बयान नहीं आया है.

मीडिया को इस बारे में पशु मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि डीएम बंगले की गाय थनैला रोग की शिकार हो गई थी। नियमित उपचार से रोग नियंत्रण में हैं, लेकिन गाय के थन में घाव हो गये हैं। किसी एक डाक्टर की ड्यूटी लगाने चिकित्सक रोज जाने में दिक्कत महसूस करते हैं और उनका अन्य काम भी प्रभावित होता है। इस कारण सप्ताह में अलग अलग डाक्टर को देखभाल के लिए समय तय किया गया है। गाय को राहत मिलते ही ड्यूटी खत्म कर दी जाएगी।

कानपुर डीएम विशाख जी की पत्नी हैं अपूर्वा दुबे

दरअसल फतेहपुर में मुख्य पशु चिकित्साधिकारी के आदेश का एक पत्र सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. इस पत्र में लिखा है कि फतेहपुर की डीएम अपूर्वा दुबे के आवास पर 7 सरकारी डॉक्टर ड्यूटी करेंगे. ये डॉक्टर सुबह शाम गाय की देखभाल करेंगे. वहीं पत्र के अनुसार शाम 6 बजे गाय की स्थिति की रिपोर्ट मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को फोन से बताएंगे. ये पत्र 9 जून को जारी किया गया है. इस पक्ष में यह भी साफ लिखा है कि लापरवाही क्षम्य नहीं होगी. बता दें कि डीएम अपूर्वा दुबे कानपुर के डीएम विशाख जी अय्यर की पत्नी हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.