September 19, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

UP: ईद उल अजहा पर गोवंश की कुर्बानी नहीं; CM योगी आदित्यनाथ

लखनऊ |कोरोना संकट को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से ईद-उल-अजहा (बकरीद) को लेकर सख्त निर्देश जारी कर दिए गए हैं. बकरीद के मद्देनजर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. इसमें बकरीद (bakra eid) से जुड़े कार्यक्रम में एक जगह पर 50 से ज्यादा लोगों के जुड़ने पर पाबंदी है. इसके अलावा कुर्बानी का काम सार्वजनिक स्थान पर नहीं किया जाएगा. आगे कहा गया है कि कहीं भी गोवंश/ऊंट अथवा अन्य प्रतिबंधित जानवर की कुर्बानी नहीं होगी.

यूपी सरकार की तरफ से अपील की गई है कि कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए ईद-उल-अजहा का त्योहार मनाया जाए. कहा गया है कि त्योहार से पहले कुछ बाजारों आदि की तस्वीरें विचलित कर रही हैं, जिसने चिंता बढ़ाई है. सीएम योगी ने अधिकारियों संग मीटिंग के बाद इन सभी विषयों पर विस्तृत दिशा-निर्देश जारी करने को कहा है.

बकरीद के मद्देनजर सीएम योगी ने दिए अधिकारियों को ये निर्देश

कोविड को देखते हुए बकरीद से जुड़े किसी आयोजन में 50 से अधिक लोग एक स्थान पर एक समय में एकत्रित न हों.
यह सुनिश्चित किया जाए कि कहीं भी गोवंश/ऊंट अथवा अन्य प्रतिबंधित जानवर की कुर्बानी न हो
कुर्बानी का कार्य सार्वजनिक स्थान पर न किया जाए, इसके लिए चिन्हित स्थलों/निजी परिसरों का ही उपयोग हो
इस दौरान स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जाए, कोविड नियमों का पालन जरूरी

 

 

अपराधियों पर योगी सरकार की नकेल, 15 अरब से अधिक की संपत्ति जब्त, 139 अपराधी एनकाउंटर में ढेर

 

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में योगी सरकार (CM Yogi) ने अपराधियों (Criminals) पर नकेल कसने का सिलसिला जारी है. सूबे में पुलिस (UP Police) ने कुख्यात अपराधियों, विभिन्न प्रकार के माफियाओं व उनके गिरोह के अन्य सहयोगियों आदि के विरूद्ध अभियान चलाकर कठोर कार्यवाही की है. योगी सरकार के चार वर्ष से अधिक के कार्यकाल में गैंगस्टर अधिनियम के तहत कुल 15 अरब 74 करोड़ रूपये से अधिक की अवैध सम्पत्तियों के जब्तीकरण  किया गया है. इसमें से सर्वाधिक कार्यवाही जनवरी 2020 से अब तक की गयी है. इस दौरान रिकॉर्ड कुल 13 अरब, 22 करोड़ रूपये से अधिक की अवैध सम्पत्ति गैगेंस्टर अधिनियम के तहत जब्त की गयी है.

अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में 13 हजार 7 सौ से अधिक अभियोग गैंगस्टर अधिनियम के तहत दर्ज किये जा चुके हैं, जिनमें 43 हजार से अधिक अभियुक्तों की गिरफ्तारी की गयी है. उन्होंने बताया कि अब तक गैंगस्टर अधिनियम की धारा-14(1) के तहत 1431 प्रकरणों में 15 अरब, 74 करोड़, 5 लाख रूपये से अधिक की चल अचल अवैध सम्पत्तियोें पर श‍िकंजा कसते हुए सरकारी जमीन अवमुक्त कराने, अवैध कब्जे के ध्वस्तीकरण एवं अवैध सम्पत्ति के जब्तीकरण की कार्यवाही की जा चुकी है।

 

 

असम के सीएम हिमंत बिस्व सरमा क्या योगी आदित्यनाथ के नक्शेक़दम पर हैं?

हिमंत बिस्व सरमा को असम का मुख्यमंत्री बने अभी दो महीने ही बीते हैं, लेकिन इस दौरान राज्य में 34 से अधिक ‘एनकाउंटर’ हुए जिनमें 15 अपराधी मारे गए हैं.

वहीं पुलिस से कथित तौर पर सर्विस हथियार छीनने और हिरासत से “भागने की कोशिश” में क़रीब 24 अपराधी घायल भी हुए हैं. मारे गए अपराधियों में चरमपंथी संगठन के सदस्य भी शामिल हैं.

पुलिस के अनुसार इन तमाम लोगों को चरमपंथ, बलात्कार, हत्या, नशीली दवाओं की तस्करी, पशु तस्करी और डकैती जैसे अपराधों के लिए पकड़ा गया था.

इस बीच शुक्रवार को मोरीगांव ज़िले में एक और ‘एनकाउंटर’ की घटना सामने आई हैं जिसमें एक संदिग्ध ड्रग तस्कर घायल हुआ है. ऐसा कहा जा रहा है कि ड्रग तस्कर ने कथित तौर पर पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.