January 19, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

UP: गाड़ियों पर जाति लिखवाना पड़ेगा बहुत महंगा, सीज हो सकता है वाहन

हाइलाइट्स:

  • उत्तर प्रदेश में गाड़ियों पर जातीय स्टिकर लगाने वालों की खैर नहीं
  • पीएमओ के निर्देश के बाद परिवहन विभाग ने जारी किया आदेश
  • ऐसे वाहनों को जब्त करने या धारा 177 में चालान का आदेश
  • महाराष्ट्र के शिक्षक हर्षल प्रभु ने पीएमओ को भेजी थी शिकायत

लखनऊ |वाहनों पर जाति लिखने का फैशन सा चल रहा है. आमतौर पर लोग अपनी गाड़ियों पर जाट, यादव, गुर्जर, क्षत्रिय, राजपूत, पंडित, मौर्य  लिखवा कर चलते हैं. अब इसे लेकर यूपी सरकार सख्त हो गई है. यूपी सरकार अब इस पर लगाम लगाने की तैयारी कर रही है. अब गाड़ियों पर जाति लिखकर चलने पर कार्रवाई की तैयारी है. यूपी में जाति लिखकर चलने पर गाड़ी सीज करने तक की कार्रवाई हो सकती है.

यूपी सरकार अब जातिसूचक स्टीकर लगे होने पर गाड़ियों को सीज करने की कार्रवाई करेगी. यूपी की राजनीति और सामाजिक व्यवस्था मे जातीय समीकरण बेहद अहम माने जाते हैं. केंद्र सरकार को लगातार शिकायतें मिल रही थीं, जिसमें ये कहा जा रहा था कि गाड़ियों पर जातिसूचक स्टीकर लगाने का प्रचलन ज्यादा है, जिसके सांकेतिक अर्थ एक-दूसरी जाति को कमतर दिखाने की कोशिश भी है.

सभ्य समाज के लिए इस तरह की भाषा ठीक नहीं. इसी के आधार पर पीएमओ ने यूपी सरकार को पत्र लिखकर रोक लगाने के निर्देश दिए हैं. पीएमओ का पत्र मिलते ही इसे लेकर सक्रिय हुई यूपी सरकार ने गाड़ियों के चालान और सीज करने की कार्रवाई को लेकर सभी जिलों के परिवहन अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. यूपी सरकार शुरुआत में लोगों को ऐसा करने से रोकने के लिए जागरूकता अभियान भी चला सकती है.

गौरतलब है कि आजकल सड़कों पर ऐसे वाहनों की भरमार नजर आ रही है, जिनपर जाति का उल्लेख है. लोग धड़ल्ले से अपने वाहन पर जाति लिखकर चल रहे हैं. इसको लेकर लोग लगातार सरकार से शिकायत कर रहे थे. इन शिकायतों को केंद्र सरकार ने गंभीरता से लिया. पीएमओ ने यूपी सरकार को पत्र लिखकर इसे रोकने के लिए कदम उठाने को कहा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.