June 25, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

World Blood Donor Day 2019 : एक प्रतिशत भारतीय ही करते हैं रक्तदान, जानिए कौन कर सकता है रक्तदान

देश की 50 करोड़ जनसंख्या रक्तदान के योग्य है। लेकिन एक प्रतिशत भारतीय ही रक्तदान करते हैं। हर साल करीब 20 लाख यूनिट खून की कमी से कई लोगों की जान चली जाती है।

images(73)
05 करोड़ यूनिट खून की जरूरत पड़ती है देश में हर साल। हर रोज 1200 सड़क हादसे, हर साल 06 करोड़ ट्रॉमा ऑपरेशन, 2.5 करोड़ बड़े ऑपरेशन समेत कैंसर, प्रेग्नेंसी के कई मामलों में खून की जरूरत होती है।
03 लोगों की जिंदगी बच सकती है, एक बार रक्तदान करने से। हमारे यहां 80 प्रतिशत रक्तदान स्वयंसेवियों द्वारा किया जाता है। रक्तदान से हृदयरोगों व कैंसर का खतरा कम होता है। इम्यूनिटी बढ़ती है।

images(74)

कौन कर सकता है रक्तदान
– 18 से 25 आयु वर्ग के लोग, वजन कम से कम 50 किलो होना चाहिए।
– हृदय गति दर: 50 से 100 बिना रुकावट
– हीमोग्लोबिन का स्तर: 12.5 जी/डीएल या इससे ऊपर।
– ब्लड प्रेशर: डायस्टोलिक: 50-100 एमएम एचजी, सिस्टोलिक: 100 से 180 एमएम एचजी
– मधुमेह, बीपी व अन्य रोगों से मुक्त
रक्तदाता जानें

images(75)
– दो रक्तदान के बीच कम से कम तीन माह का अंतराल होना चिाहए।
– ओ-नेगेटिव ब्लड, सभी मरीजों को चढ़ाया जा सकता है। एबी ब्लड गु्रप वालों के प्लाज्मा सभी ब्लड गु्रप वालों को दिए जा सकते हैं।
– रक्तदान से दो-तीन घंटे पहले भरपेट भोजन और पर्याप्त पानी पीना चाहिए।
– रक्तदान के बाद 24 से 48 घंटों तक एल्कोहल और कैफीनयुक्त चीजें ना लें।
– रक्तदान के बाद 35-40 दिन तक संपूर्ण रक्त सुरक्षित रहता है।

fcd60555f9b9705a5eaf59fd76d9c257_459dec4f94e6b3f5ded0796e02d28825.jpg

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.